भीलवाड़ा में सुनाई देने लगी अवैध हथियारों से निकलने वाली गोलियों की गूंज 

 भीलवाड़ा में सुनाई देने लगी अवैध हथियारों से निकलने वाली गोलियों की गूंज 

  2020-06-30 03:18 pm

 भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। वस्त्रनगरी भीलवाड़ा की बात करें तो यहां हथियार रखना शान और वैभव से जोड़कर देखा जाता है। जितना चलन यहां लाइसेंसी हथियारों का है उससें ज्यादा अवैध हथियार रखने का भी है। यही कारण है कि अब सरेआम फायरिंग की घटनायें होने लगी है। अवैध हथियारों से निकलने वाली गोलियों की गूंज शहर में ही नहीं, बल्कि ग्रामीण इलाकों में भी सुनाई देने लगी है। युवाओं में बढ़ते हथियार रखने के शौक से शहर की शांति को खतरा पैदा होने लगा है। यहां जरूरत अवैध हथियार रखने वालों पर शिकंजा कसने की है।
सस्ते दामों में मिल जाते हैं हथियार
सूत्रों की माने तो देसी कट्टों के साथ ही देसी पिस्टल जैसे हथियारों की तस्करी जारी है। यहां के लोग बाहर से हथियार लाकर लोगों को भी सप्लाई कर रहे हैं। ये अवैध हथियार मध्यप्रदेश के भिंड, मुरैना, यूपी के इटावा जैसे शहरों में काफी कम किमत में बिकते हैं। पूर्व पार्षद पर हुये हमले के बाद पुलिस ने हथियार सप्लायरों को भी दबोचा था। दो लोग पकड़े भी गये। लेकिन मुख्य आरोपित तक पुलिस के हाथ नहीं पहुंच पाये।  

अवैध हथियार अपराध की जड़ 
जानकार सूत्रों का कहना है कि अवैध हथियार अपराध की जड़ होता है। वहीं युवा अपनी शान के लिए भी अवैध हथियार रखने लगे हैं। ऐसे में अवैध हथियारों की संख्या में इजाफा हो रहा है। इन्हीं हथियारों से अपराध भी होते हैं। 

केस एक
शहर के जवाहर नगर स्थित घोसी मोहल्ला में सोमवार देर रात बाइक से आये दो बदमाशों ने पिस्टल से हवाई फायर किये। फायर के बाद दोनों बदमाश भाग छूटे। जिनके खिलाफ प्रतापनगर थाने में केस दर्ज हुआ है। पुलिस इन दोनों बदमाशों की तलाश में जुटी है। 
केस दो
18 जून की दोपहर बापूनगर निवासी पूर्व पार्षद महेंद्र घबरानी को घर से बाहर बुलाकर तीन राउंड फायरिंग की गई। गनीमत रही कि कोई जनहानि नहीं हुई। इस मामले में पुलिस ने फायरिंग के दो और अवैध हथियार सप्लाई करने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है। 
केस तीन
आठ मार्च को जिले के फूलिया थाना इलाके के तस्वारिसा बासा में फायरिंग की गई। वहां एक दुकानदार राकेश अपनी दुकान में बैठा था, तभी बाइक से आये बदमाशों ने राकेश पर कई गोलियां चलाई। इस घटना में भी कोई जनहानि नहीं हो पाई। इसे लेकर शंकर गुर्जर ने बदमाशों के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। 

केस चार
अक्टूबर 2018 में पुलिस अधीक्षक आवास के पास कार सवार लोगों ने सरेआम शाम की सब्जी मंडी में फायरिंग की थी। इस फायरिंग में एक रिक्शा चालक को पैर में गोली लगी थी। इसे लेकर कोतवाली पुलिस ने क्रॉस केस दर्ज किये थे। 

केस 5 
नवंबर 15 में मालोला रोड पर हाइवे स्थित एक होटल पर हुये झगड़े में चेतन नामक युवक को गोली लगी थी। यहां खाना खाने के दौरान मामूली बोलचाल के बाद यह गोली चली थी।  

Photo file

 

news news news news news news news news