पुलिस के दो रूप, उल्लंघन करने वालों पर डंडे बजाना, जरूरतमंदों को खाना खिलाना

  पुलिस के दो रूप, उल्लंघन करने वालों पर डंडे बजाना, जरूरतमंदों को खाना खिलाना

  2020-03-26 11:50 pm

 भीलवाड़ा हलचल। कोरोना वायरस संक्रमण में देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान पुलिस एक तरफ जहां उल्लंघन करने वालो पर सख्ती करती दिख रही है, वहीं जरूरतमंदों को खाना और जरूरत का सामान उपलब्ध करवा कर सामाजिक सरोकार भी निभा रही है। राजस्थान के पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह ने पूरे पुलिस बेडे को निर्देश दिए है कि व्यवस्था ऐसी हो कि कोई भी जरूरतमंद भूखा न सोए। 
 राजस्थान में लॉकडाउन हालांकि एक दिन पहले ही शुरू हो गया था, लेकिन देशव्यापी लॉकडाउन शुरू होने के बाद बनी स्थितियों में पुलिस यहां दोहरी जिम्मेदारी निभाती नजर आ रही है। उल्लंघन करने वालों पर पुलिस के डंडे और चालान की कार्रवाई दोनों चल रहे है। भीलवाड़ा में पुलिस  लॉकडाउन के दौरान कई वाहन जब्त कर चुकी है। वहीं लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले करीब दो दर्जन समाजकंटकों को अब तक गिरफ्तार किया जा चुका है।  
सख्ती के साथ ही पुलिस का सामाजिक सरोकार भी दिख रहा है।  पुलिस ने जरूरी सामान की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए बडे स्टोर्स के संचालकों से बात की है। इसी तरफ फल व सब्जी विक्रेताओ को भी कॉलोनियों में जाकर बिक्री करने के लिए कहा जा रहा है । इस दौरान सबसे अहम काम जरूरतमंदों को भोजन करवाने का है।
 पुलिस मुख्यालय ने प्रदेश के सभी थानों को निर्देश दिए हैं कि अपने संसाधनों और थाना क्षेत्र के लोगों के सहयोग से जरूरतमंदों को भोजन वितरित करें। इसी के तहत पुलिस की ओर से भोजन वितरित किया जा रहा है। पुलिसकर्मी और अधिकारी खुद लोगों को भोजन उपलब्ध  कराते दिख रहे है।  इसके साथ ही पुलिस लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए भी समझा रही है।  

news news news news news news news news