VIDEO : डायन, बांझपन और लिंग भेद के दर्द को बयां करती नागपुरी फिल्म ‘फुलमनिया’

 VIDEO : डायन, बांझपन और लिंग भेद के दर्द को बयां करती नागपुरी फिल्म ‘फुलमनिया’

  -0001-11-30 12:00 am

डायन, बांझपन और लिंग भेद के दर्द को बयां करती नागपुरी फिल्म ‘फुलमनिया’ मराठी या बांग्ला भाषा में बनने वाली क्षेत्रीय फिल्मों ने कई अवॉर्ड जीते हैं. राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मराठी और बांग्ला फिल्मों की तारीफ हुई है. झारखंड से पहली बार एक फिल्म अंतरराष्ट्रीय मंच पर पहुंची. फिल्म का नाम है ‘फुलमनिया’. नागपुरी भाषा में बनी इस फिल्म ने राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जमकर सुर्खियां बटोरी हैं. एक साथ तीन गंभीर विषयों का फिल्मांकन किया गया है. डायन प्रथा, बांझपन और लिंग भेद के दर्द को फिल्म में पूरी शिद्दत के साथ बयां किया गया है.

news news news news news news news news