अकीदतमंदों ने घरों में रहकर ही जुमा के बदले अदा की जोहर की नमाज, आज चांद दिखा तो ईद कल

अकीदतमंदों ने घरों में रहकर ही जुमा के बदले अदा की जोहर की नमाज, आज चांद दिखा तो ईद कल

  2020-05-22 11:55 pm

भीलवाड़ा (हलचल)। रमजान माह के आखिरी जुमे की नमाज 22 मई को अदा की गई। यह अलविदा जुमा कहलाता है। हर मुसलमान को इस मुबारक दिन का इंतजार पूरे साल रहता है। मगर इस साल कोरोना महामारी की वजह से अकीदतमंदों ने अपने घरों में अलग-अलग जोहर की नमाज अदा की। शहर काजी मुफ्ती अशरफ  जिलानी अजहरी ने बताया कि जुमे की नमाज की बड़ी फजीलत है। हदीस में जुमे के दिन को हफ्ते की ईद का कहा गया है। अकीदतमंदों को खुशी के साथ रमजान के जाने का गम भी होता है। शहर काजी ने बताया कि शनिवार को चांद दिखाई देने पर रविवार को ईद होगी। अगर नहीं दिखा तो सोमवार को ईद मनाई जाएगी। इसके साथ ही शहर काजी ने मुस्लिम भाइयों से अपील की है कि ईद सादगी के साथ मनाएं। अपने परिवार की तरह ईद के दिन गरीब और जरूरतमंदों का खास ख्याल रखें।

news news news news news news news news