अगले 10 दिन में चलेंगी ढाई हजार से अधिक ट्रेनें, 36 लाख लोगों को पहुंचाएंगे घर

  2020-05-23 11:43 pm

रेलवे की ओर से बड़ी खबर है। लॉकडाउन में अपने गृहक्षेत्र से दूर फंसे हुए लोगों के लिए रेलवे ने बड़ी राहत दी है। प्रवासियों को उनके गृह राज्य तक पहुंचाने के लिए रेलवे ने आज अहम फैसला लिया है। इसके चलते अब राज्य सरकारों की जरूरतों के अनुसार देश भर में अगले दस दिनों में 2600 अधिक श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को चलाना तय किया गया है। इस पहल के चलते देश भर में फंसे हुए 36 लाख लोगों को उनके घर पहुंचाए जाने की उम्‍मीद है। जहां देश महामारी COVID-19 से जूझ रहा है, वहीं भारतीय रेलवे इस महत्वपूर्ण समय में लगातार स्‍पेशल ट्रेनें चला रहा है।

भारतीय रेलवे ने 1 मई, 2020 से देश भर में "श्रमिक स्पेशल" ट्रेनों को चलाना शुरू कर दिया था, ताकि प्रवासियों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों, छात्रों को अलग-अलग स्थानों पर पहुंचाया जा सके। इन विशेष ट्रेनों को संबंधित राज्य सरकारों के अनुरोध पर एक स्‍थान से दूसरे स्‍थान तक चलाया जा रहा है। रेलवे और राज्य सरकारों ने इन "श्रमिक स्पेशल" के सफल संचालन के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है।

इस क्रम में भारतीय रेलवे ने पिछले 23 दिनों में 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं। लगभग 36 लाख फंसे प्रवासियों को अब तक उनके गृह राज्यों में पहुंचाया जा चुका है। गौरतलब है कि श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के अलावा, रेल मंत्रालय ने स्पेशल ट्रेनों के 15 फेरे शुरू किए हैं। इसके अलावा 200 ट्रेन सेवाओं को 01 जून, 2020 से शुरू करने की घोषणा पिछले दिनों की गई है।

news news news news news news news news