असंगठित मजदूर यूनियन ने एसडीएम को दिया ज्ञापन

Fri 15 Mar 19  4:02 pm

राजसमंद(राव दिलीप सिंह,)जिले की असंगठित मजदूर युनियन शाखा आमेट ने मुख्यमंत्री के नाम लिखा एक ज्ञापन एसडीएम कालुराम खोड को देकर हिताधिकारी पंजियन /योजना मे निरस्त किये गये आवेदन पत्रो का पुन. आवेदन करने की मांग की।

असंगठित मजदूर यूनियन आमेट के अध्यक्ष केलाश शर्मा. बाबुलाल. अनिल कुमार. जगदीश.ललिता. पुष्पा. सोहनसिंह. मीना बाई आदि ने दिये ज्ञापन मे बताया की हिताधिकारी पंजियन 1 जनवरी 2016 से आंन लाईन आवेदन श्रमिकों ने करवाये थे। राजसंमद जिला माबंल प्रधान क्षेत्र होने से श्रमिक माबंल कटींग.फिनिसिंग/घीसाई/लोडिग कटर पर कार्य करने वाले लकडी कार्य.वेल्डिंग कार्य इत्यादि जो वास्तविक मजदूरों ने आवेदन किये साथ ही भवन एवं अन्य सनिर्माण कल्याण मण्डल मे पात्रता रखने वालो ने ही आवेदन किये थे। वह जांच या फोन वार्ता मे स्पष्टता नहीं होने व नरेगा कार्य भी पूर्ण रूप से नहीं मिलने से कई आवेदन श्रम विभाग द्रारा निरस्त किये गये।निरस्त किये गये आवेदन पत्रो का पुन.निरिक्षण किया जाये। बताया गया की हिताधिकारी पंजियन योजना आवेदन

नरेगा श्रमिकों के निस्तारण मे ग्राम विकास अधिकारी का आधार काडं आवश्यक किया गया है।तथा शुभशक्ति योजना मे राजपत्रिक अधिकारी की आईडी व मोबाईल नम्बर आवश्यक है।उसी प्रकार ग्राम विकास अधिकारी की आईडी से भी नरेगा श्रमिको के पंजियन /योजना आवेदन का निस्तारण हो सकता है।