नई दिल्ली,  । आम आदमी पार्टी (aam aadmi party) के मुखिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा का एलान किया है। सीएम केजरीवाल के मुताबिक, अगले 2-3 महीनों में दिल्ली मेट्रो में महिलाएं मुफ्त में यात्रा भी करना शुरू कर देगी। ऐसा हुआ तो देश में दिल्ली ऐसा पहला शहर/राज्य होगा, जहां पर फ्री पब्लिक ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था लागू होगी।

यह जानकार आपको हैरानी होगी कि दुनिया में कई ऐसे देश और शहर हैं, जहां पर लोगों के लिए काफी पहले से फ्री पब्लिक ट्रांसपोर्ट के इंतजाम हैं। यह अलग बात है कि दिल्ली सरकार की ही तरह अब जर्मनी की सरकार भी अपने सबसे प्रदूषित शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को मुफ्त करने की योजना पर काम कर रही है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग अपने निजी वाहन छोड़कर पब्लिक ट्रांसपोर्ट में यात्रा करने को प्राथमिकता दें। जर्मनी में आधा दर्जन से अधिक शहर हैं, जिनमें जल्द ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम लागू योजना है।

यहां पर बता दें कि लक्जमबर्ग दुनिया का पहला ऐसा देश है, जिसने अपने यहां वर्ष 2020 से पब्लिक ट्रांसपोर्ट को पूरी तरह फ्री करने की घोषणा कर दी है। यूरोप के कुछ शहरों में इस तरह की सेवा पहले ही चालू की जा चुकी है, लेकिन पूरे देश के तौर पर ऐसी घोषणा करने वाला लक्जमबर्ग पहला देश है।  

 

वहीं, यूरोपीय देश बेल्जियम के हस्सेल्ट शहर में वर्ष 1997 में ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट में किराया खत्म कर दिया गया था। हस्सेल्ट शहर लिम्बर्ग प्रांत की राजधानी है। यहां पर सरकार द्वारा मुफ्त यात्रा का निर्णय लेने से 2006 तक यात्रियों की तादाद में 13 गुना तक का इजाफा हुआ था। फिर फ्री यात्रा योजना को 19 साल बाद खत्म कर दिया गया, लेकिन अब भी 19 साल से कम उम्र के लोग मुफ्त में यात्रा करते हैं। बताया जाता है कि इससे इस देश ने प्रदूषण पर काबू पाने में बड़ी कामयाबी हासिल की थी। ऐसे में दिल्ली में अगर महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा की सुविधा शुरू हुई तो प्रदूषण से राहत मिलना तय है, क्योंकि प्रदूषण में वाहनों की भूमिका ज्यादा है।

" />
 इन देशों में सबके लिए मुफ्त है पब्लिक ट्रांसपोर्ट

इन देशों में सबके लिए मुफ्त है पब्लिक ट्रांसपोर्ट

Tue 04 Jun 19  6:43 pm


 नई दिल्ली,  । आम आदमी पार्टी (aam aadmi party) के मुखिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली मेट्रो में महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा का एलान किया है। सीएम केजरीवाल के मुताबिक, अगले 2-3 महीनों में दिल्ली मेट्रो में महिलाएं मुफ्त में यात्रा भी करना शुरू कर देगी। ऐसा हुआ तो देश में दिल्ली ऐसा पहला शहर/राज्य होगा, जहां पर फ्री पब्लिक ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था लागू होगी।

यह जानकार आपको हैरानी होगी कि दुनिया में कई ऐसे देश और शहर हैं, जहां पर लोगों के लिए काफी पहले से फ्री पब्लिक ट्रांसपोर्ट के इंतजाम हैं। यह अलग बात है कि दिल्ली सरकार की ही तरह अब जर्मनी की सरकार भी अपने सबसे प्रदूषित शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट को मुफ्त करने की योजना पर काम कर रही है, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग अपने निजी वाहन छोड़कर पब्लिक ट्रांसपोर्ट में यात्रा करने को प्राथमिकता दें। जर्मनी में आधा दर्जन से अधिक शहर हैं, जिनमें जल्द ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट सिस्टम लागू योजना है।

यहां पर बता दें कि लक्जमबर्ग दुनिया का पहला ऐसा देश है, जिसने अपने यहां वर्ष 2020 से पब्लिक ट्रांसपोर्ट को पूरी तरह फ्री करने की घोषणा कर दी है। यूरोप के कुछ शहरों में इस तरह की सेवा पहले ही चालू की जा चुकी है, लेकिन पूरे देश के तौर पर ऐसी घोषणा करने वाला लक्जमबर्ग पहला देश है।  

 

वहीं, यूरोपीय देश बेल्जियम के हस्सेल्ट शहर में वर्ष 1997 में ही पब्लिक ट्रांसपोर्ट में किराया खत्म कर दिया गया था। हस्सेल्ट शहर लिम्बर्ग प्रांत की राजधानी है। यहां पर सरकार द्वारा मुफ्त यात्रा का निर्णय लेने से 2006 तक यात्रियों की तादाद में 13 गुना तक का इजाफा हुआ था। फिर फ्री यात्रा योजना को 19 साल बाद खत्म कर दिया गया, लेकिन अब भी 19 साल से कम उम्र के लोग मुफ्त में यात्रा करते हैं। बताया जाता है कि इससे इस देश ने प्रदूषण पर काबू पाने में बड़ी कामयाबी हासिल की थी। ऐसे में दिल्ली में अगर महिलाओं के लिए मुफ्त यात्रा की सुविधा शुरू हुई तो प्रदूषण से राहत मिलना तय है, क्योंकि प्रदूषण में वाहनों की भूमिका ज्यादा है।

news news news