नयी दिल्लीः एक नवंबर से सात करोड़ मोबाइल नंबर बंद हो जाएंगे. टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) की ओर से जारी रिलीज के मुताबिक, टेलीकॉम कंपनी एयरसेल की सर्विस एक नवंबर से बंद कर दी जाएगी. ऐसे में एयरसेल के करीब सात करोड़ यूजर्स की परेशानी बढ़ सकती है.
 
इस परेशानी से बचने के लिए मौजूदा एयरसेल यूजर्स को अपना मोबाइल नंबर 31 अक्टूबर तक किसी अन्य नेटवर्क में पोर्ट कराना पड़ेगा. अगर वे ऐसा नहीं करते तो उनका नंबर हमेशा के लिए बंद कर दिया जाएगा और इन नंबर को दोबारा एक्टिवेट नहीं किया जा सकेगा. गौरतलब है कि साल 2018 की शुरुआत में एयरसेल ने कड़ी प्रतिस्पर्धा के चलते अपनी सेवाएं देनी बंद कर दी थीं.
 
उसके बाद फरवरी 2018 में एयरसेल ने ट्राई से यूनीक पोर्टिंग कोड्स देने के लिए कहा था. जिससे एयरसेल के यूजर्स मोबाइल नंबर को बिना पोर्ट किए सर्विस जारी रख सकें. ट्राई की रिपोर्ट के मुताबिक, वर्तमान में एयरसेल के करीब 70 मिलियन यानी करीब सात करोड़ यूजर्स हैं. अगर इन्होंने तय तारीख से पहले अपने नंबर को पोर्ट नहीं कराया तो इनका नंबर बंद हो जाएगा.

 
 
" />

एक नवंबर से बंद हो जाएंगे सात करोड़ मोबाइल नंबर, बचने के लिए करना होगा ये काम

Wed 30 Oct 19  11:04 pm


नयी दिल्लीः एक नवंबर से सात करोड़ मोबाइल नंबर बंद हो जाएंगे. टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (TRAI) की ओर से जारी रिलीज के मुताबिक, टेलीकॉम कंपनी एयरसेल की सर्विस एक नवंबर से बंद कर दी जाएगी. ऐसे में एयरसेल के करीब सात करोड़ यूजर्स की परेशानी बढ़ सकती है.
 
इस परेशानी से बचने के लिए मौजूदा एयरसेल यूजर्स को अपना मोबाइल नंबर 31 अक्टूबर तक किसी अन्य नेटवर्क में पोर्ट कराना पड़ेगा. अगर वे ऐसा नहीं करते तो उनका नंबर हमेशा के लिए बंद कर दिया जाएगा और इन नंबर को दोबारा एक्टिवेट नहीं किया जा सकेगा. गौरतलब है कि साल 2018 की शुरुआत में एयरसेल ने कड़ी प्रतिस्पर्धा के चलते अपनी सेवाएं देनी बंद कर दी थीं.
 
उसके बाद फरवरी 2018 में एयरसेल ने ट्राई से यूनीक पोर्टिंग कोड्स देने के लिए कहा था. जिससे एयरसेल के यूजर्स मोबाइल नंबर को बिना पोर्ट किए सर्विस जारी रख सकें. ट्राई की रिपोर्ट के मुताबिक, वर्तमान में एयरसेल के करीब 70 मिलियन यानी करीब सात करोड़ यूजर्स हैं. अगर इन्होंने तय तारीख से पहले अपने नंबर को पोर्ट नहीं कराया तो इनका नंबर बंद हो जाएगा.

 
 
news news news