एड्स रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन

एड्स रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन

Fri 14 Jun 19  5:51 pm


भीलवाड़ा (हलचल) । शुक्रवार को जिला कलेक्ट्रेट परिसर में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) राकेश कुमार भीलवाड़ा की अध्यक्षता में जिला एड्स रोकथाम एवं नियंत्रण इकाई भीलवाड़ा का गठन कर एवं कार्यषाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में जिले के विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारियों को शामिल किया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा0 जे0सी0 जीनगर ने बताया की एच.आई.वी. संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर कार्य किया जायेगा।   
कार्यशाला के प्रारम्भ में डाॅॅ घनश्‍‍‍‍‍याम चावला उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, स्वास्थ्य भीलवाडा ने प्रतिभागियों को एचआईवी एवं एड्स के विषय में विस्तार से जानकारी देते हुए राजस्थान राज्य की वर्तमान प्रसार एवं भीलवाडा जिले के वर्तमान स्थिति की तुलना करते हुए आकडों के माध्यम से स्थिति को चिंताजनक बताया व इस विषय में सभी विभागों का समन्वय करते हुए औद्योगिकी इकाईयों, स्वंय सेवी संगठनों के माध्यम से अधिक से अधिक स्वास्थ्य जाॅच षिविरों का आयोजन कर स्क्रीनिंग करने के आवष्यकता जताई।
उन्होंने बताया कि स्वंय सेवी संगठन ग्रामीण उत्थान मानव संस्थान, नेहरू युवा केन्द्र व इण्डियन पब्लिक एजुकेषन सर्विस के प्रतिनिधियों ने आवष्यक सुझाव दियें। श्रम विभाग, जिला उद्योग केन्द्र, षिक्षा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग के सहयोग से मजदूरांे, आषा सहयोगिनी, आंगनबाडी कार्यकर्ताे को जागरूक करने के उदेष्य से प्रषिक्षण षिविर आयोजित किये जायेगंे।
कार्यषाला के दौरान पीएमओ डाॅ एसपी आगीवाल, डाॅ0 अरूण गौड, जिला आरसीएच अधिकारी डाॅ सीपी गोस्वामी, डाॅ अन्जु कोचर, डाॅ एएच जारीफ, डाॅ महेन्द्र छापरवाल व संबंधित जिला अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थें।  चन्द्रदेव आर्य ने एचआईवी एड्स की भ्रान्तियों के बारे में बताकर कहा कि समय पर जाॅच करवाकर ही एचआईवी की पुष्टि की जा सकती है। इस दौरान हरलाल मीणा, जिला प्रबंधक एड्स ने कार्यषाला की महत्वता के बारे में एंव समिति के गठन के बारे में विस्तार से जानकारी दी। अन्त में डाॅ प्रकाष शर्मा जिला नोडल अधिकारी ने धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कार्यषाला समाप्त की।  

news news news