कॉल गर्ल के जरिए धन्ना सेठों से वसूली करते थे थाना प्रभारी, निलंबित

Tue 01 Oct 19  9:12 pm


सागर। सागर जिले के बहेरिया थाना प्रभारी हरीश यादव को एसपी अमित सांघी ने निलंबित कर दिया। भोपाल आईजी योगेश देशमुख के पत्र पर एसपी ने यह कार्रवाई की है। यादव पर आरोप है कि भोपाल के अयोध्यानगर थाने में पदस्थ रहते समय वे कॉल गर्ल के माध्यम से धन्ना सेठों से वसूली करते थे।

उल्‍लेखनीय है कि मध्‍यप्रदेश में बहुचर्चित हनी ट्रैप मामले के चलते यह नया मामला सामने आया है। इससे क्षेत्र में सनसनी का वातावरण है। लोग अलग-अलग तरह से इस मामले की विवेचना में जुट गए हैं।

एसपी सांघी ने यादव के निलंबन की पुष्टि की है। उन्होंने नईदुनिया जानकारी देते हुए बताया कि इस संबंध में भोपाल के आईजी का पत्र आया था। पत्र में भोपाल में अयोध्या नगर थाने में तैनाती के दौरान यादव पर कॉलगर्ल के माध्यम से शहर के धनपतियों से रुपए ऐंठने के आरोप लगे थे।
उल्‍लेखनीय है कि निरीक्षक हरीश यादव तीन माह पहले ही सागर जिले में ट्रांसफर पर आए थे। इस दौरान उनकी तैनाती शहर के गोपालगंज थाना, रहली थाना और एक माह पहले बहेरिया थाने में की गई थी। बहेरिया थाने में तैनाती के दौरान भोपाल के मामले का खुलासा होते ही वे चर्चाओं में आ गए थे। उनके संबंध में कई जानकारियां सामने आने की बात कही जा रही थी।
एसपी का कहना है कि पिछले दिनों से अखबारों के माध्यम से निरीक्षक यादव के बारे में खबरें मिल रही थीं, लेकिन मंगलवार को भोपाल आईजी का पत्र मिलने के बाद उन्हें निलंबित कर दिया है। भोपाल के केस का खुलासा होते ही निरीक्षक यादव दो दिन से थाने नहीं गए थे। सागर जिले में तैनाती के दौरान निरीक्षक के खाते में कोई बड़ी उपलब्धि दर्ज नहीं हो सकी। बहेरिया थाने के कर्मचारियों का कहना है इस मामले को लेकर वे परेशान रहते थे। उन्हें कार्रवाई होने का अंदेशा हो गया था।
news news news