कोठारी नदी की सफाई के लिए जिला कलेक्टर ने दी एक माह की तनख्वाह

कोठारी नदी की सफाई के लिए जिला कलेक्टर ने दी एक माह की तनख्वाह

Thu 16 May 19  12:13 pm


भीलवाड़ा हलचल ( प्रितेश जैथलिया ) अब तक लाखों रुपए खर्च कर नगर विकास न्यास और नगर परिषद कोठारी नदी की शक्ल तक नहीं सुधार पाए पर परंतु लोगों के सामूहिक प्रयास ने न केवल नदी की शक्ल सुधारी बल्कि आज जिला कलेक्टर ने अनूठी पहल करते हुए सफाई के लिए एक माह का वेतन देने की घोषणा कर नदी के स्वरूप को सुधारने में मदद ओर लोगो को सम्बल प्रदान किया है। उप नगर सांगानेर में आज सांगानेर स्टडी सर्किल की ओर से आयोजित चित्रकला प्रतियोगिता में छोटे बच्चों एवं लोगो ने भाग लिया । इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला कलेक्टर राजेन्द्र भट्ट थे जिन्होंने लोगों के सामूहिक प्रयास को ने केवल सराहा बल्कि नदी के स्वरूप को लौटाने के प्रयास में भागीदारी निभाते हुए एक माह का वेतन सहयोग के रूप में देने की घोषणा की है। उल्लेखनीय है कि कोठारी नदी को भीलवाड़ा की जीवन रेखा कहा जाता है के सुधार के लिए नगर विकास न्यास और नगर परिषद ने अब तक करोड़ों रुपए खर्च किये लेकिन सुधार नहीं आ पाया। जगह-जगह गंदगी के ढेर मलबा पड़ा देखा जा सकता है लेकिन अब लोगों के सामूहिक प्रयास ने इसे स्वच्छ बनाने की दिशा में उठाया कदम सफल होता नजर आ रहा है। सांगानेर स्टडी सर्किल, द्वारा विगत 27 अप्रेल से सांगानेर-भीलवाड़ा कोठारी पुलिया पर निरन्तर कोठारी नदी स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा हैं, और इसके बेहतरीन परिणाम सामने भी आये हैं। पुलिया और उसके आसपास के क्षेत्रों को पॉलीथिन एवं कचरा मुक्त करने के साथ ही नदी से भारी मात्रा में खरपतवार निकाल कर नदी के बहुत बडे क्षेत्र को फिर से प्राकृतिक स्थिति में लाया गया हैं। ये कार्य किसी व्यक्ति विशेष द्वारा न होकर सबका सामूहिक योगदान हैं , और इसी सामूहिक योगदान से पर्यावरण व समाज में बड़े परिवर्तन के संकते हैं। आज इसी के चलते कोठारी नदी पर ही छात्र-छात्राओं की चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई जिसमें सैकड़ों बच्चों ने हिस्सा लिया और कलेक्टर भट्ट ने उनकी हौसला अफजाई की। वही नदी में लोग घर की तरह कचरा साफ करते हुए अलग ही नजारा पेश कर रहे थे।

news news news