गांधीजी की 150वीं जयंती पर भाजपा सांसदों को अपने क्षेत्र में करनी होगी 150 किमी की पदयात्रा

Wed 10 Jul 19  7:05 am


नई दिल्ली। भाजपा सांसदों को अभी से पांच साल बाद आने वाले चुनाव की कसरत शुरू करनी होगी। प्रधानमंत्री ने पार्टी के सभी सांसदों को निर्देश दिया है कि वह अपने-अपने संसदीय क्षेत्रों में 150 किलोमीटर पदयात्रा का आयोजन करें। यह महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के उपलक्ष्य में 2 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक चलेगा। मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री ने फिर से सांसदों को जनता से जुड़ने और उनकी समस्याओं को समझने और दूर करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि महात्मा की 150वीं जयंती मनाई जा रही है। ऐसे में सभी को अपने अपने क्षेत्रों में 150 किलोमीटर की पदयात्रा आयोजित करनी चाहिए। केंद्रीय संसदीय कार्यमंत्री प्रहलाद जोशी ने बताई कि हर सांसदों को 15-20 समूह तैयार करने होंगे और वह समूह रोजाना पदयात्रा करेगा। जाहिर तौर पर उस समूह में ही संबंधित सांसदों को भी शामिल होना पड़ेगा। जीत के तीन चार महीने के अंदर ऐसी कवायद सांसदों को अभी से जनता से जोड़ने का माध्यम भी बनेगी और सरकार के लिए फीडबैक जानने का जरिया भी। राज्यसभा सांसदों को भी ऐसे क्षेत्र दिए जाएंगे जहां पार्टी कमजोर है। उन्हें वहां पदयात्रा करनी होगी। ध्यान रहे कि प्रधानमंत्री पहले भी सांसदों को इस तरह का कार्य देते रहे हैं। पिछले साल भी भाजपा सांसदों को अपने अपने क्षेत्रों में पदयात्रा के साथ साथ मोटर साइकल रैली निकालनी पड़ी थी।
news news news