जायरीन की सहुलियत के लिए लगाए केम्प

Tue 12 Mar 19  7:56 pm

अजमेर हलचल।  सूफी संत ख्वाजा साहब के ८०७वें सालाना उर्स के मौके पर खादिमों की रजिस्टर्ड संस्था अंजुमन यादगार चिश्तिया शेखजादगान की ओर से जायरीनद्ब्रएद्ब्रख्वाजा के लिए ख्वाजा साहब की जीवनी और धार्मिक रस्मों की जानकारी से लबरेज तोहफाद्ब्रएद्ब्रयादगार पुस्तक का विमोचन मेला मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में किया गया।
अंजुमन के सचिव डॉ अब्दुल माजिद चिश्ती ने बताया कि ख्वाजा साहब के उर्स में आने वाले जायरीन की सुविधा के लिए अंजुमन की ओर से तोहफाद्ब्रएद्ब्रयादगार पुस्तक का प्रकाशन किया गया है। जिसका विमोचन मेला मजिस्ट्रेट व एडीएम सिटी अरविन्द कुमार सेंगवा ने कायड विश्रामस्थली पर किया। इस मौके पर दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान, एडीशनल एसपी पन्नालाल मीणा आदि मौजूद थे।  पुस्तक में अंजुमन की ओर से किए जाने वाले कायर् में दरगाह के ऐतिहासिक स्थलों व धार्मिक इतिहास की जानकारी दी गई है। चिश्तिी ने बताया कि कायड विश्रामस्थली में अंजुमन की ओर से जायरीन की सहुलियत के लिए २४ घंटे केम्प लगाया गया है। साथ ही चिल्ला कुतुब साहब पर भी जायरीन के रहने व भोजन के इंतजामात किए गए है। उन्होंने बताया कि एक लाख से अधिक जायरीन को अंजुमन की ओर से भोजन की व्यवस्थाएं की गई है। साथ ही पेयजल के लिए भी दोनों जगह इंतजामात किए गए है। पुस्तक के विमोचन के मौके पर सेंगवा ने अंजुमन की ओर से किए जा रहे कायर्ो की सराहना करते हुए कहा कि जायरीन की सहुलियत के लिए अंजुमन की ओर से किए गए इंतजाम सराहनीय है। सभी को इसी प्रकार सेवाभाव से कायर् करना चाहिए। इस मौके पर अंजुमन के अध्यक्ष अब्दुल जर्रार चिश्ती, सहसचिव शफीकुर्रहमान चिश्ती, अब्दुल कलाम चिश्ती, हाजी वसीमुद्दीन चिश्ती, अजीजुद्दीन चिश्ती आदि मौजूद थे।