तप में प्रदर्शन एवं आडम्बर नहीं -महासति शशि‍कान्ता

Sat 31 Aug 19  3:47 pm


चित्तौड़गढ़ (हलचल) । शान्त-क्रान्ति संघ की विदुशी महासति शशि‍कान्ता म.सा. ने शनिवार को अरिहन्त भवन में आयोजित धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि तप से पुराने कर्मो का क्षय होता है और नये कर्म का बन्ध नहीं होता है। जैसे तपाने से सोना कुन्दन बन जाता है, वैसे ही तप से आत्मा निर्मल होती है। उपवास से एक तो पेट साफ होता है और तप के द्वारा कर्मो की निर्झरा होती हैं

आपने कहाकि बड़ी तपस्या नहीं भी कर सके तो भी थाली में आई एक वस्तु को निकाल देने मात्र एवं भूख से कम खाने पर भी उणोदरी तप हो जाता है। तप से  इन्द्रियों पर नियन्त्रण रहता है और व्यक्ति इन्द्रियों का गुलाम नहीं बनता है। आज जो अनहोनी घटनाऐं जैन समाज में हो रही है, उसका मूल कारण हम इन्द्रियों के गुलाम होकर ऐसे कृत्य कर बैठते है। जिससे पूरा जैन समाज शर्मिन्दगी महसूस करता है।

आपने कहा कि तप में प्रदर्शन एवं आडम्बर नही होना चाहिये। फल की कामना एवं यश प्राप्ति की इच्छा से तप करने पर एवं उसमें आडम्बर व प्रदर्शन करने पर वह कर्मो की निर्झरा में सहायक नही होता है। तप करने तप करवाने एवं तप की  अनुमोदना से हम आत्मकल्याण के मार्ग पर अग्रसर होते है। लंगर अर्थात उपवास अनेक बिमारियों की अचूक औषधि भी है। शरीर को विश्राम देने के लिये उपवास करना आयुर्वेद में भी बताया गया है।

इससे पूर्व महासति रचनाश्री म.सा. ने अपने उद्बोधन में कहा कि घर की नारी परिवार की धुरी है। एक नारी घर को एक सूत्र में बांधकर भी रख सकती है और वही नारी घर में बिखराव भी कर सकती है। आदर्श नारी अन्याय-अनीति के  धन को घर में प्रवेश रकने में रोक भी सकती है, और नारी पुरूष को कुमार्ग पर धकेल भी सकती है। नारी को धर्मपत्नि कहा गया है। वह पतिपरायण रहकर घर को सीमित साधनों में भी स्वर्ग बना सकती है। बालक एक मिट्टी के समान है उसे मां जैसा बनाना चाहे बना सकती है। इसलिये घर परिवार की समृद्धि-सुख-शान्ति में नारी की महत्वपूर्ण भूमिका है।

कार्यक्रम का संचालन करते हुए मंत्री विमलकुमार कोठारी ने कहा कि आजकल जैन परिवार के के बारे में समाचार-पत्रों में जो पढ़ने को मिल रहा है, उससे पूरा जैन समाज शर्मिन्दगी महसूस कर रहा है। इसका मूल कारण है कि हम नई पीढ़ी को धर्म से नहीं जोड़ पाये है और समाज क्या कहेगा, यह भय नही रहा है। वन्दना श्रीश्रीमाल ने भाव प्रकट किये।

  

news news news