कनेच्छन कलां के शिवदत्त शर्मा  का निधन तीन दिन पूर्व हो गया था। शिवदत्त की मृत्यु से छोटे भाई रामस्वरूप शर्मा का दिल टूट गया। दोनों भाई जिन्दगीभर साथ रहे। बड़े भाई मौत के वियोग में रामस्वरूप भी बैचेन हो गया। तीन दिन में और तीन दिन बाद ही रामस्वरूप ने प्राण त्याग दिए। शिवदत्त के पुत्र जगदीशचन्द्र शर्मा ने बताया कि दोनों भाइयों में प्रगाढ़ प्रेम था। दोनों एक-दूसरे के बिना नहीं रहते थे। बड़ेे भाई के वियोग में छोटेे भाई की मौत की मौत की चर्चा पूरे क्षेत्र में रही।

" />

तीन दिन बाद ही भाई ने भी त्याग प्राण

Sat 09 Nov 19  5:08 am


भीलवाड़ा ।कनेच्छन कलां के शिवदत्त शर्मा  का निधन तीन दिन पूर्व हो गया था। शिवदत्त की मृत्यु से छोटे भाई रामस्वरूप शर्मा का दिल टूट गया। दोनों भाई जिन्दगीभर साथ रहे। बड़े भाई मौत के वियोग में रामस्वरूप भी बैचेन हो गया। तीन दिन में और तीन दिन बाद ही रामस्वरूप ने प्राण त्याग दिए। शिवदत्त के पुत्र जगदीशचन्द्र शर्मा ने बताया कि दोनों भाइयों में प्रगाढ़ प्रेम था। दोनों एक-दूसरे के बिना नहीं रहते थे। बड़ेे भाई के वियोग में छोटेे भाई की मौत की मौत की चर्चा पूरे क्षेत्र में रही।

news news news