दिगम्बर जैन समाज को सामाजिक उत्तरदायित्व के लिए आगे रहना चाहिए

Tue 25 Jun 19  4:03 pm


भीलवाडा (हलचल) । दिगम्बर जैन समाज को धार्मिक कार्यो के साथ सामाजिक उत्तरदायित्व निभाने के लिए भी आगे रहना चाहिए। आज की सबसे बडी आवश्यकता बच्चों को अच्छे वातावरण में स्तरीय शिक्षा प्रदान करने की है। मैंने देखा है कि कई समाज शिक्षण संस्थाएं चलाते है लेकिन काफी कम वेतन पर अध्यापक नियुक्त करते है। जब अध्यापक ही सक्षम नही होगा तो बच्चों की उन्नति कैसे होगी। हमारे शिक्षण संस्थान में प्रशिक्षित एवं उच्च स्तरीय प्राध्यापक नियुक्त होगे जिनका वेतन अन्य उच्च स्तरीय संस्थानों से भी ज्यादा होगा। संतुष्ठ अध्यापक अपने विद्यार्थियों पर पूरा ध्यान देगा। यह बात परम पूज्य मुनि पुंगव 108 श्री सुधासागर जी महाराज ने मंगलवार को सुधासागर दिगम्बर जैन संस्थान के सदस्यों को सम्बोधित करते हुए कही। 
वरिष्ठ उपाध्यक्ष ने बताया कि यह शिक्षण संस्थान सन्त शिरोमणी आचार्य 108 श्री विद्यासागर जी महाराज के परम शिष्य परम पूज्य मुनि पुंगव 108 श्री सुधासागर जी महाराज की प्रेरणा से स्थापित किया जा रहा है। वर्तमान में समाज के 250 से अधिक श्रेष्ठी इसके सदस्य बने है। उन्होनें बताया कि पुर रोड पर आरटीओ कार्यालय के पास इस संस्थान का तीन मंजिला भवन का निर्माण कार्य लगभग पुरा हो चुका है। क्लास रुम सीबीएसई मापदण्ड के अनुसार 600 वर्गफिट के बनाये जा रहे है एवं उनमें आधुनिक एलईडी बोर्ड, प्रोजेक्टर एवं अन्य सभी आधुनिक शिक्षण सुविधाओं से युक्त किये गये है।
उपाध्यक्ष रमेश पाटोदी ने बताया कि संसस्थान के 29 जून 2019 को भव्य लोकार्पण की तैयारियां पूरी कर ली गई है। इसके लिए प्रांगण में एक विशाल पाण्डाल भी निर्मित किया जा रहा है।

news news news