पंचायतों की नई लॉटरी और रुके चुनाव शीघ्र

पंचायतों की नई लॉटरी और रुके चुनाव शीघ्र

  2020-01-14 06:05 pm

पायलट ने समय पर प्रधान, जिला प्रमुख के चुनाव कराने को कहा
भीलवाड़ा (भूपेंद्र ओझा)।
'देर आए, पर दुरुस्त आए! उप मुख्यमंत्री एवं पंचायतीराज मंत्री ने चुनाव आयोग को आज मंगलवार को पत्र लिखकर प्रधान एवं जिला प्रमुख के चुनाव शीघ्र कराने की सलाह दी है। भीलवाड़ा जिले में सरपंचों का इसी माह तथा प्रधानों का फरवरी के प्रथम सप्ताह में कार्यकाल पूरा हो रहा है। 
उप मुख्यमंत्री पायलट के कथन से भीलवाड़ा जिले में नई बदनौर पंचायत समिति फिर गठित हो, चार पंचायत समितियों मांडल, आसींद, हुरड़ा व सुवाणा की ग्राम पंचायतों में नई लॉटरी फिर शीघ्र निकालने के पुख्ता संकेत मिल गए हैं। साथ ही जिले में अब 13 की जगह बदनौर के नई पंचायत समिति बनने से 14 पंचायत समितियां गठित होने पर प्रधानों की भी फिर से लॉटरी निकालने की कवायद होने के आसार हैं।
उप मुख्यमंत्री ने साथ ही नई पुनर्गठित की गई पंचायतों को अपने विभाग द्वारा सही ठहराने का संकेत देते हुए सात दिनों में नई गठित पंचायत समितियों एवं ग्राम पंचायतों की नई लॉटरी निकालने का भी पंचायतीराज आयुक्त को निर्देश दिया है।
उप मुख्यमंत्री पायलट ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा 8 जनवरी को राज्य सरकार की अपील पर राजस्थान हाइकोर्ट द्वारा नई पंचायत समितियों एवं पंचायतों के पुनर्गठन पर रोक पर इस जारी किए स्टे को नई पंचायतों के गठन के लिए पर्याप्त ठहराया है। इस नाते पंचायतीराज आयुक्त को सरकार के नई पंचायत समितियों एवं ग्राम पंचायतों के तीनों नोटिफिकेशन को आधार मानकर नई लॉटरी निकालने की शीघ्र कार्यवाही का निर्देश दिया है।
राज्य चुनाव आयोग ने 8 जनवरी के सुप्रीम कोर्ट के स्टे आदेश के बाद अचानक देर रात प्रदेश की 4366 ग्राम पंचायतों में चार चरणों में होने वाले पंच-सरपंच के चुनाव को स्थगित कर दिया था। उसमें भीलवाड़ा जिले की मांडल पंचायत समिति की 19 ग्राम पंचायतों के साथ 1121 ग्राम पंचायतों में पंच-सरपंच के उम्मीदवारों की नामजदगी हो गई थी।     

news news news news news news news news