बदमाशो ने दिन दहाडे कार से दस लाख रुपए व पिस्टल की चोरी

बदमाशो ने दिन दहाडे कार से दस लाख रुपए व पिस्टल की चोरी

Fri 15 Mar 19  7:07 pm

 अजमेर हलचल। पुलिस भले ही छोटे मोटे बदमाशो को पकडकर अपनी पीट थपद्ब्रथप्पा रही हो, लेकिन शहर में सक्रिय शातिर बदमाशो ने पुलिस को चुनौती देते हुये शहर में एक बार फिर दिन दहाडे जयपुर रोड स्थित हाथी भाटा पावर  के बाहर खडी फोरच्युनर कार से दस लाख रुपए नकद एवं एक लाईसेंस शुदा पिस्टल चुराकर पक्रार हो गये। यह पूरा घटनाक्रम होटल के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया।  
वहां लगे सीसीटीवी में कैद हुई घटनाक्रम के अनुसार पहले एक अपराधी ने कार का कांच तोडा और फिर दूसरे अपराधी ने अंदर घुसकर ब्रीफकेस उठा लिया। ब्रीफकेस में दस लाख रुपए नकद और लाइसेंस शुदा पिस्टल होना बताया जा रहा है।  यह ब्रीफकेस सामाजिक कायर्कर्ता विजय तत्ववेदी (पिन्नी भाई) का था। 
जानकारी के मुताबिक तत्ववेदी  होटल एम्बेसी के मालिक अमित जैन से मुलाकात करने के लिए रुके थे और कार को पार्किंग में खडी कर होटल के अंदर चले गए। कोई आधा घंटे की मुलाकात के बाद जब वे वापस बाहर आए तो उन्होंने देखा कि कार का कांच टूटा हुआ है और ब्रीफकेस गायब है। तत्काल सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई तो अपराधी कार के कांच को तोडते नजर आए। पुलिस को पूरे घटनाक्रम की जानकारी एवं सीसीटीवी फुटेज उपलब्ध करवा दिये गये। माना जा रहा है कि इस वारदात में चारद्ब्रपांच अपराधी शामिल हैं। पुलिस अब बदमाशो की सरगर्मी से तलाश कर रही है। तत्ववेदी ने बताया कि वे वैशाली नगर स्थित गुरुकृपा बिल्डिंग में संचालित बैंक में दस लाख रुपए जमा करवाने जा रहे थे। जिस तरह दिन दहाडे वारदात हुई है उससे शहर में सनसनी फैल गई।
गौरतलब है कि पिछले दिनों ही होटल एम्बेसी के समीप मनी एक्सचेंज की दुकान पर बैठे युवक मनीष मूलचंदानी से आठ लाख रुपए की राशि लूट कर बदमाश फरार हो गए थे और जाते वक्त बदमाशो ने गोली चलाई जिससे मनीष की मौत हो गई। पुलिस अभी मनीष के हत्यारों को गिरफ्तार भी नहीं कर पाई थी कि बदमाश १५ मार्च को एक ओर दस लाख रूपये की लूट की  वारदात अंजाम देकर पक्रार हो गये। जिस तरह बदमाशो ने वारदात को अंजाम दिया उससे प्रतीत होता है कि बदमाशो में पुलिस का कोई भय नहीं है। अपराधी दिन दहाडे चोरी एवं डकैती की वारदातो को अंजाम देकर मौके से फरार हो जाते हैं और पुलिस देखती रहती है। १५ मार्च की वारदात में तो सीसीटीवी पुक्टेज में अपराधियों के चेहरे साफ नजर आ रहे हैं। अब देखना यह है कि अजमेर पुलिस का अभय कमांड केन्द्र कितनी जल्दी बदमाशो का पता लगाता है।