भरण, पोषण एवं कल्याण अधिनियम, 2007 के प्रावधानों की अनुपालना करावें सुनिश्चित

Tue 25 Jun 19  9:02 pm


राजसमन्द (राव दिलीप सिंह) सर्वोच्चन्यायालय के आदेश की अनुपालना में जिला मजिस्ट्रेट अरविन्द कुुमार (कलक्टर) पोसवाल ने भारत सरकार से प्राप्त पत्र में भरण, पोषण एवं कल्याण अधिनियम, 2007 के प्रभावी क्रियान्वयन, मॉनिटरिंग एवं उपखण्ड स्तर पर गठित अधिकरण एवं जिले में गठित अपीलीय अधिकरण में वरिष्ठ नागरिकों के दावों, प्रार्थना पत्रों की सुनवाई, निस्तारण, निरस्त एवं बकाया प्रकरणों की सूचना वर्ष में 2 बार भिजवाने के लिए निर्देशित किया है।

       जिला मजिस्ट्रेट (कलक्टर) पोसवाल ने बताया कि भरण, पोषण एवं कल्याण अधिनियम, 2007 की सूचना के साथ ही वृद्धजनों के जीवन एवं सम्पत्ति की सुरक्षा, चिकित्सा, देखभाल एवं अधिनियम के प्रचार-प्रसार के लिए दिये गये निर्देशों की पालना भी सुनिश्चित की जाये।

       जिला मजिस्ट्रेट (कलक्टर) पोसवाल ने निर्देश दिये गये है कि सर्वोच्च न्यायालय द्वारा माता-पिता और वरिष्ठ नागरिकों का भरण, पोषण तथा कल्या अधिनियम, 2007 के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए पारित निर्णय, निर्देशों तथा सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के दिशा-निर्देशों की पालना हर हाल में सुनिश्चित की जाएं।

news news news