भाजपा-कांग्रेस नेता बागियों को मनाने में जुटे ...

भाजपा-कांग्रेस नेता बागियों को मनाने में जुटे ...

Wed 21 Nov 18  5:57 pm


भीलवाड़ा (हलचल)। विधानसभा चुनाव के लिए नाम वापसी का गुरूवार को अन्तिम दिन है। भाजपा और कांग्रेस अपनी ही पार्टी के बागी प्रत्याशियों को मनाने में जुटी है और कई बड़े नेता इस काम में लगे है। भीलवाड़ा शहर के साथ ही जिले में दोनों ही पार्टियों के बागी प्रत्याशी मैदान में है जो अधिकृत प्रत्याशियों का गणित बिगाड़ते नजर आ रहे है। 

भीलवाड़ा की सातों की विधानसभा सीटों के लिए 7 दिसम्बर को होने वाले मतदान से पूर्व कल नाम वापसी होनी है। कांग्रेस के अधिकृत प्रत्याशियों के खिलाफ बागी उम्मीदवार मैदान में है। इनमें भीलवाड़ा में ओम नराणीवाल, मांडल में प्रद्युमन सिंह, मांडलगढ़ में गोपाल मालवीय, शाहपुरा में राजकुमार बैरवा, आसींद में हगामी लाल मेवाड़ा को मनाने का प्रयास स्थानीय स्तर के साथ-साथ प्रदेश के बड़े नेता भी कर रहे है। लेकिन सहाड़ा से अब तक कांग्रेस के एक प्रत्याशी श्याम पुरोहित को राजी करने में सफलता मिल पाई है। उधर भाजपा प्रत्याशियों के सामने भी बागी उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। भीलवाड़ा में सुशील नुवाल, मांडल में उदयलाल भडाणा, आसींद रामलाल गुर्जर, शाहपुरा में अविनाश जीनगर आदि बागी उम्मीदवार मुख्य है। पिछले तीन दिनों के प्रयास में सिर्फ कांग्रेस का एक ही बागी उम्मीदवार ने नाम वापसी की है। जबकि दोनों दलों के दर्जन भर बागी उम्मीदवार अभी चुनाव मैदान में ताल ठोक रहे है। बुधवार को भी किसी ने नाम वापस नहीं लिया है। ऐसे में दोनों ही दलों के सामने विकट समस्या खड़ी होती नजर आ रही है। सबसे ज्यादा घमासान मांडल विधानसभा क्षेत्र में है जहां कांग्रेस और भाजपा के बागी प्रत्याशी मैदान में खड़े है और मुकाबले को रोचक बनाते नजर आ रहे है। 

news news news