मौसम विभाग के अनुसार, पूर्वी राजस्थान में मानसून के फिर से सक्रिय होने के कारण बारिश की संभावना बन रही है. इसके चलते 1 जुलाई को बूंदी, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद और सिरोही में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. वहीं, कुछ इलाकों में मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जताई गई है. बांसवाड़ा, बारां, भीलवाड़ा, झुंझुनू, कोटा और उदयपुर में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने के आसार हैं.

" /> मौसम विभाग के अनुसार, पूर्वी राजस्थान में मानसून के फिर से सक्रिय होने के कारण बारिश की संभावना बन रही है. इसके चलते 1 जुलाई को बूंदी, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद और सिरोही में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. वहीं, कुछ इलाकों में मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जताई गई है. बांसवाड़ा, बारां, भीलवाड़ा, झुंझुनू, कोटा और उदयपुर में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने के आसार हैं.

">

भीलवाड़ा में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश के आसार, 7 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

  2020-07-01 02:48 pm

जयपुर. राजस्‍थान में मानसून  के प्रवेश के बाद से अब तक झमाझम बारिश का एहसास लोगों को नहीं हुआ है. फिलहाल कई इलाकों में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश ही हुई है. मानसून के फिर से सक्रिय होने के बाद मौसम विभाग ने बुधवार को प्रदेश के 7 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है.

मौसम विभाग के अनुसार, पूर्वी राजस्थान में मानसून के फिर से सक्रिय होने के कारण बारिश की संभावना बन रही है. इसके चलते 1 जुलाई को बूंदी, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद और सिरोही में भारी बारिश की चेतावनी दी गई है. वहीं, कुछ इलाकों में मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जताई गई है. बांसवाड़ा, बारां, भीलवाड़ा, झुंझुनू, कोटा और उदयपुर में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने के आसार हैं.

news news news news news news news news
कोरोना अपडेट