शेयर बाजार में मचा हाहाकार, 600 से ज्यादा लुढ़का सेंसेक्स

शेयर बाजार में मचा हाहाकार, 600 से ज्यादा लुढ़का सेंसेक्स

Mon 08 Jul 19  1:23 pm


मुंबई। घरेलू शेयर बाजार में बिकवाली के भारी दबाव में सोमवार को बेंचमार्क शेयर संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 600 से ज्यादा अंक लुढ़क गया। मायूसी का आलम यह है कि 11:30 बजे तक सेंसेक्स 621.60 अंक (1.57%) टूटकर 38,891.79 जबकि निफ्टी 191.10 अंक (1.62%) कमजोर होकर 11,620.05 पर फिसल गया। शुक्रवार से अब तक सेंसेक्स अब तक 1098.61 अंक टूट चुका है जबकि निफ्टी में 344.70 अंक की गिरावट आ चुकी है।

अमेरिका में पिछले सप्ताह जॉब डॉटा मजबूत आने से अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व द्वारा ब्याज दर में कटौती की संभावना कम होने से एशिया बाजारों में नकरात्मक रुझान रहा।

रक्षा मंत्रालय नाग मिसाइल को सेना के लिए खरीदने का ऑर्डर पहले ही दे चुका है। नाग मिसाइल के उन्नत वर्जन में इंफ्रारेड सिस्टम लगाया गया है। इसकी मदद से यह मिसाइल अब अपने लक्ष्य को आसानी से पहचान कर सकती है। इस कारण अब इस मिसाइल की इतनी सटीकता है कि इसे फायर एंड फोरगेट कहा जाने लगा है।

500 मीटर से 5 किमी. तक मारक क्षमता

 

500 मीटर से लेकर 5 किलोमीटर की दूरी तक मार करने वाली यह मिसाइल एक बार में आठ किलोग्राम वारहैड लेकर जाती है। 42 किलोग्राम वजन वाली नाग मिसाइल 1.90 मीटर लम्बी होती है। यह 230 मीटर प्रति सेकंड की रफ्तार से अपने लक्ष्य पर प्रहार करती है।

नाग मिसाइल दागने वाले कैरियर को नेमिका कहा जाता है। ऊंचाई पर जाकर यह टैंक के ऊपर से हमला करती है।नाग मिसाइल की विशेषता यह है कि यह उड़ान भरने के बाद अपने ऑपरेटर के पास पूरे क्षेत्र के फोटो भी भेजती रहती है। इससे ऑपरेटर को क्षेत्र में मौजूद दुश्मन के टैंकों की सटीक संख्या पता चल जाती है। इसके आधार पर वह अन्य मिसाइल दाग उन्हें नष्ट कर सकता है। सतह से सतह पर मार करने वाली नाग मिसाइल का एक हवा से जमीन पर मार करने वाला हेलिना वर्जन भी है। इसे हेलिकॉप्टर से दागा जाता है। हेलिना की रेंज 10 किलोमीटर है।

news news news