श्रमिकों के घरों में न्यास की तोडफ़ोड़ गलत, कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन

श्रमिकों के घरों में न्यास की तोडफ़ोड़ गलत, कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन

Thu 11 Jul 19  2:44 pm


 भीलवाडा हलचल। जिला बिल्डिंग वक्र्स यूनियन के बेनर तले लक्ष्मीपुरा जोधड़ास में बेघर किये गये मजदूरों ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर अपनी मांगों के संदर्भ में कलेक्टर को ज्ञापन दिया। 
जिला बिल्डिंग वक्र्स यूनियन के श्रमिकों ने ज्ञापन में बताया कि लक्ष्मीपुरा-जोधड़ास में  स्थित प्लॉट उन्होंने सोनू पुरी से खरीद किये थे। इसके बाद से वे खुद लंबे समय से इन प्लॉट पर अपना जीवन यापन कर रहे थे। 20 जून को नगर विकास न्यास ने सभी श्रमिकों को बिना किसी पूर्व सूचना के मकानों को तहस-नहस कर दिया। इतना ही नहीं खाने-पीने के सामान भी मकानों से बाहर तक नहीं निकालने दिये। तभी से सभी श्रमिकगण खुले आसमान के नीचे अपना जीवनयापन करने पर मजबूर हो गये है। सभी श्रमिकों को वर्षा के दौरान होने वाली असुविधाओं, जीव-जन्तुओं से  जान-माल का खतरा बना हुआ है। सभी श्रमिकों का आरोप है कि न्यास अधिकारियों ने बिना जांच के कार्रवाई करते हुये बिना नोटिस दिये मजदूरों के घर तोड़ दिये। इससे उन्हें भटकने को मजबूर होना पड़ रहा है। यूनियन के ओमप्रकाश देवानी ने बताया कि मजदूरों के  साथ अन्याय को लेकर आज कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर कलेक्टर को ज्ञापन दिया। इस दौरान रतनलाल नट, लाली, जगदीश, लीला, रामचन्द्र बुनकर, शिवराज, पारसी बलाई, भंवरलाल नट, महेन्द्र सिंह गुर्जर, बद्री, बाबू, भगवती बलाई आदि कई श्रमिक उपस्थित थे।

 

news news news