श्रम आयुक्त ने ली समीक्षा बैठक

श्रम आयुक्त ने ली समीक्षा बैठक

Fri 08 Nov 19  9:08 pm


चित्तौडग़ढ़ (हलचल)। श्रम, रोजगार व कौशल विभाग के आयुक्त डॉ. समित शर्मा की अध्यक्षता में जिला कलेक्टर चेतन देवड़ा की उपस्थिति में जिला कलेक्ट्रेट के समिति कक्ष में श्रम, रोजगार, कौशल विकास एवं आईटीआई विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। 
बैठक में उपस्थित सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि विभाग का कार्य श्रमिकों, शिक्षित बेरोजगारों व प्रशिक्षुओं से संबंधित है। अत:सभी अधिकारी/कर्मचारीगण अपने कार्य में तत्परता एवं समयबद्धता से  पालन करें। यदि किसी भी स्तर पर कार्य में कोताही बरती गई तो दोषी अधिकारी/कर्मचारी के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी।
नियोजन (रोजगार) विभाग 
बैठक में नियोजन विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे बेरोजगारी भत्ते के लंबित प्रकरणों को शीघ्र निस्तारण करें तथा अक्टूबर माह के स्वीकृत बेरोजगारी भत्ते का अविलंब भुगतान करें। इसके अतिरिक्त रोजगार मेलों के आयोजन से पूर्व नियोजकों से संपर्क कर उनकी आवश्यकताओं के अनुरूप अधिक से अधिक बेरोजगार युवाओं को मेलों में आमंत्रित कर योग्यता के अनुसार रोजगार दिलाने में मदद करें।  
श्रम विभाग 
बैठक में श्रम विभाग के अधिकारीगण को निर्देशित किया कि किसी भी हालत में अपात्र व्यक्तियों को लाभ नहीं दिया जाना चाहिए और कोई भी पात्र व्यक्ति लाभ से वंचित नहीं रहना चाहिए। इस हेतु निरंतर भौतिक सत्यापन कर अपात्र व्यक्तियों के आवेदन निरस्त करने के साथ-साथ गलत आवेदन करने वाले आवेदकों व ऐसे ई-मित्रों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जावे। इस हेतु भौतिक सत्यापन की सूची जिला कलेक्टर को भी उनके अधीनस्थ राजस्व स्टाफ से भौतिक सत्यापन हेतु दी गई ताकि त्वरित कार्यवाही हो सके। 
स्किल डवलपमेंट 
उन्होंने स्किल डवलमेन्ट के जिला प्रबंधक को सभी प्रशिक्षण केंद्रो का लगातार निरीक्षण करने तथा प्रशिक्षण में पूरी उपस्थिति प्रतिदिन सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया। यदि किसी केंद्र में अनियमितता पाई जाती है तो तुरंत कठोर कार्यवाही के प्रस्ताव मुख्यालय को प्रस्तुत करें। 
 आईटीआई विभाग 
बैठक में डॉ. समित शर्मा ने बताया कि आईटीआई में स्टाफ  की कमी को शीघ्र भर्ती से भरने के साथ गेस्ट फेकल्टी अनुदेशकों को देय मानदेय भत्ते में भी बढो़तरी के प्रयास किये जा रहे हैं।
लिपिक निलंबित, फोरमेन को नोटिस
राजकीय आईटीआई संस्थान चित्तौडग़ढ के प्राचार्य द्वारा किये गये निरीक्षण की रिपोर्ट बैठक के दौरान ली गई तथा निरीक्षण में गंभीर अनियमितता पाये जाने पर कनिष्ठ सहायक को मौके पर निलंबित करने के निर्देश दिये गये। जिस पर निदेशालय द्वारा कनिष्ठ सहायक को तत्काल निलंबित कर मुख्यालय बाड़मेर किया गया। दोषी फोरमेन को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया गया। जवाब संतोष जनक न होने पर चार्जशीट जारी की जाएगी। 9 नवंबर को सुबह 10 बजे डॉ. शर्मा एवं जिला कलेक्टर महाराणा प्रताप राजकीय  स्नातकोत्तर महाविद्यालय में केरियर गाइडेन्स सेमिनार में छात्रों को  संबोधित करेंगे ।

news news news