सखी महिलाएं अपने उत्पादों को समृद्ध कर उद्योग का रूप दें: दुग्गल

सखी महिलाएं अपने उत्पादों को समृद्ध कर उद्योग का रूप दें: दुग्गल

Sat 02 Nov 19  5:57 pm


चित्तौडग़ढ़ (हलचल)। ग्रामीण महिलाओं के स्वरोजगार को सुनिश्चित करने के लिये हिन्दुस्तान जिंक द्वारा संचालित सखी परियोजना के तहत संचालित सखी उत्पादन केन्द्र पुठोली  का उदघाटन जिंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुनील दुग्गल एवं पुठोली सरपंच कोमल वैष्णव द्वारा किया गया।
समारोह में सखी महिलाओं ने कूमकुम तिलक लगाकर अतिथियों  का स्वागत किया । इस अवसर पर दुग्गल ने केन्द्र पर महिलाओं द्वारा बनाये गये उत्पादों का अवलोकन किया और उनके आत्मविश्वास और अभिरूचि को देखते हुए सखी केंद्रों से बने उत्पादों को बड़े उद्योग में विस्तार देने का विजन साझा किया ताकि सभी आसपास के गांवों की महिलाओं को स्वरोजगार के अवसर सृजित हों।
इस मौके पर पुठोली के वरिष्ठ जनप्रतिनिधि राधेश्याम वैष्णव, चंदेरिया लेड स्मेल्टर के निदेशक पंकज शर्मा, हिंदुस्तान जिंक बिजनेस एक्सीलेंस प्रधान राजेश कुण्डू पायरो, इकाई प्रधान कमोद सिंह, हेड टेक्नॉलोजी सेल राजेश लुहाडिय़ा, हेड प्रशासन ऋषिराज सिंह शेखावत, हेड सीएसआर विशाल अग्रवाल, अरूणा चीता, श्वेतलाना साहू, मंजरी फाउंडेशन से नरेश नयन, अजय कुमार एवं गोपाल वैष्णव शामिल हुए।
उल्लेखनीय है कि हिन्दुस्तान जिंक ओैर मंजरीफाउण्डेषन द्वारा संचालित सखी परियोजना के अन्तर्गत गत 3 सालों से जिंक इकाइयों के आसपास के 14 पंचायत के 45 गांवों में 4307 ग्रामीण महिलाए सखी कार्यक्रम से जुडकर 370 स्वयं सहायता समूहों के गठन  से 34 ग्राम संगठन और सखी फेडरेशन तक एकजुट होकर सामाजिक और आर्थिक स्तर पर स्वावलंबन की दिशा में निरंतर आगे बढ़ रही है जिन्हें गुणवत्तापूर्ण उत्पाद बनाने का नियमित प्रशिक्षण देकर जिंक की ओर से सहयोग और दिशा प्रदान की जा रही है।

news news news