स्वास्थ्य के नाम पर बेचा जा रहा जूस कहीं बीमार न कर दें, अब चिकित्सा विभाग करेगा कार्रवाई

स्वास्थ्य के नाम पर बेचा जा रहा जूस कहीं बीमार न कर दें, अब चिकित्सा विभाग करेगा कार्रवाई

Wed 20 Feb 19  1:58 pm

भीलवाड़ा (हलचल)। स्वास्थ्य सुधारने के नाम पर केनों में भरकर सुबह-सुबह जूस विभिन्न स्थानों पर बेचा जा रहा है लेकिन कई घंटों पहले तैयार किया जाने वाला जूस कितना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है, इस ओर स्वास्थ्य विभाग भी चुप्पी साधे हुए है। वहीं जूस बेचने वाले जमकर चांदी काट रहे है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने इस संबंध में कार्रवाई के निर्देश दिए है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से मिलावटी और नकली वस्तुओं के खिलाफ अभियान तो चलाया गया लेकिन इस अभियान में घटिया सामग्री बेचने वाले अधिकांश लोगों के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है। भीलवाड़ा में विभिन्न पार्को के बाहर सुबह-सुबह स्वास्थ्य के लिए लाभकारी बताकर रात्रि में ही तैयार किये जूस को केनों में भरकर बिक्री की जा रही है। 

जानकारों की जूस ताजा होना चाहिए तभी वह लाभकारी है अन्यथा वह स्वास्थ्य को हानि भी पहुंचा सकता है। कई जगह से यह खबरें भी आ चुकी है कि लौकी का जूस पीने से जान भी गई है। इसके बावजूद इस तरह के जूस यहां खुलेआम बेचे जा रहे है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग इस ओर चुप्पी साधे हुए है। 

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.जे.सी.जीनगर ने इस संबंध में कहा कि उन्होंने स्वास्थ्य निरीक्षकों को इस तरह का जूस बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। उन्होंने यह भी कहा कि रात्रि में तैयार करके जो जूस बेचा जाता है वह स्वास्थ्य के लिए ठीक नहीं है।