‘BOMB’, चपेट में हैं 8 करोड़ लोग, मचा रहा US में तबाही

‘BOMB’, चपेट में हैं 8 करोड़ लोग, मचा रहा US में तबाही

Thu 14 Mar 19  5:25 pm


नई दिल्ली। भीषण तूफान की वजह से बुधवार को सड़क पर चल रहे वाहनों की रफ्तार अचानक थम गई। लोग जहां के तहां अपनी गाड़ियों में ही दुबकने को मजबूर हो गए। तूफान और उसके साथ हो रही बर्फबारी इतनी तेज थी कि गाड़ियों और घरों में मौजूद लोग भगवान से सलामती की दुआ मांगते रहे। इसी बीच काफी संख्या में वाहन आपसी टक्कर की वजह से दुर्घटनाग्रस्त भी हो गए। इसकी वजह थी एक भयानक चक्रवात, जिसका नाम है बम साइक्लोन (Bomb Cyclone)।

ये भीषण चक्रवात पश्चिमी अमेरिका के कोलोराडो शहर में आया था। कोलोराडो से होता हुआ तूफान ग्रेट प्लेन और मिडवेस्ट के कुछ हिस्सो में फैल गया था। चक्रवात इतना भयंकर था कि कोलोराडो में रे पासोस काउंटी के प्रवक्ता रयान पार्सेल ने सीएनएन से बातचीत में कहा कि राहत व बचाव कार्य पूरे जोरों पर है। ये चक्रवात, कोलोराडो के सामान्य तूफानों से बहुत शक्तिशाली और खतरनाक था। चक्रवात इतना खतरनाक था कि प्रवर्तन अधिकारी भी तूफान में फंसे लोगों और इसकी वजह से हुई दुर्घटना से निपटने की जगह अपनी गाडियां छोड़कर छिपे रहे। एलबर्ट काउंटी के मैनेजर सैम अल्ब्रेक्ट ने बताया कि हम ऐसी स्थिति में थे, जहां हमें बचाव दल को भी रेस्क्यू (बचाव) करना पड़ा।

100 से ज्यादा वाहन आपस में भिड़े
वेलिंगटन अग्निशमन विभाग ने अंतरराष्ट्रीय मीडिया से बातचीत में बताया कि बुधवार को आए इस भीषण चक्रवात की वजह से कोलोराडो में 100 से ज्यादा वाहन बेलिंगटन के पास इंटरस्टेट 25 पर आपस में भिड़कर दुर्घटनाग्रस्त हो गए थे। अग्निशमन विभाग के फेसबुक पेज के अनुसार वाहनों कि टक्कर में किसी की जान नहीं गई है, हालांकि लोगों को मामूली से लेकर गंभीर चोटें आई हैं। हादसे की सूचना मिलते ही दुर्घटना स्थल के दोनों तरफ (कोलोराडो और व्योमिंग) से आपातकालीन टीमों को राहत व बचाव कार्य के लिए मौके पर रवाना कर दिया गया था।

कैसे आता है बम साइक्लोन
बम साइक्लोन तब आता है, जब वायुमंडल के दबाव में लगातार गिरावट हो। 24 घंटे से ज्यादा देर तक 24 मिलीबार से कम वायुमंडीलय दबाव होने पर इस तरह के साइक्लोन का खतरा रहता है। मंगलवार से अब तक वायुमंडलीय दबाव 33 मिलीबार तक कम हो चुका है। इस वजह से चक्रवात लगातार शक्तिशाली होता जा रहा है। इसे लेकर सोशल मीडिया और एफएम आदि के जरिए मौसम विभाग और स्थानीय प्रशासन लगातार चेतावनी जारी कर रहा है।

लोगों को ऐसे मौसम में घरों के अंदर रहने और वाहन न चलाने की हिदायत दी जा रही है। ये बर्फीला तूफान तेजी से केंद्रीय और उत्तरी मैदानी इलाकों व ऊपरी मिडवेस्ट की तरफ बढ़ रहा है। आशंका व्यक्त की गी है कि आज (गुरुवार को) तूफान के कारण भारी बर्फबारी और कई इलाको में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

news news news