20 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए आयकर निरीक्षक पकड़ा

20 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए आयकर निरीक्षक पकड़ा

Sat 09 Nov 19  3:45 pm


 इंदौर । आयकर विभाग के एक निरीक्षक स्तर के अधिकारी को लोकायुक्त पुलिस ने शुक्रवार को २० हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथों पकड़ा। आरोपित एक फैक्टरी संचालक को उसके खाते में हुए बड़े लेनदेन का हवाला देकर १० लाख की पैनल्टी लगाने के लिए धमका रहा था और इसके सेटलमेंट के लिए दो लाख रुपए मांग रहा था। पकड़े जाने पर उसने टीम के सामने फरियादी को पहचानने से ही इनकार कर दिया और बहाने बनाने लगा। टीम ने उसकी पैंट भी उतरवा दी। लोकायुक्त डीएसपी प्रवीणसिंह बघेल ने बताया कि आरोपित को नाम महाद्ओिम तत है। भगतसिंह नगर निवासी राजेश कुशवाह ने गुरुवार को शिकायत की थी कि निरीक्षक तत उसे चार माह से परेशान कर रहा है। आरोपित उससे कह रहा है कि उसके खाते से वर्ष २०१७ में बड़ा लेनदेन हुआ है। इस पर १० लाख की पैनल्टी लग रही है। इससे बचना है तो दो लाख रुपए देने पड़ेंगे। इसके बाद हमने गुरुवार को ही राजेश को रिकॉर्डर लेकर भेजा जिसमें आरोपित की आवाज रिकॉर्ड कर ली गई।

शुक्रवार को राजेश पहली किस्त के २० हजार रुपए लेकर आयकर भवन में निरीक्षक के ऑफिस में गया, लेकिन वह सीट पर नहीं था। फोन करने पर निरीक्षक ने राजेश को नीचे कैंटीन में बुलवाया। बघेल ने बताया कि वहां हमारी टीम के निरीक्षक राजकुमार सराफ और राहुल गजभिये ने उसे पकड़ लिया। उसने रिश्वत के रुपए लेकर पैंट की जेब में रख लिए थे।

 

इसलिए परेशान कर रहा था तत

 

डीएसपी के मुताबिक राजेश के दोस्त अशोक विश्वकर्मा के बागली (जिला देवास) में एक टाउनशिप में २१ प्लॉट थे। इन पर लोन नहीं मिलने से अशोक ने ये प्लॉट राजेश के नाम कर दिए। कुछ दिन बाद राजेश ने प्लॉट वापस अशोक के नाम पर कर दिए। प्लॉट की कीमत करोड़ों रुपए थी, इसलिए राजेश का खाता आयकर विभाग की स्क्रूटनी में आ गया। इसके बाद निरीक्षक उसे परेशान करने लगा।

news news news