पड़ोसी ने देखा शव

बुधवार सुबह बालिका के घर के पीछे करीब 600 मीटर दूर स्थित ज्वार के खेत में पड़ोसी ने शव देखा। उसने तत्काल बालिका के परिजन को सूचना दी। मासूम बेटी का शव देख सभी चौंक गए। माता-पिता बदहवास हो गए। उन्हें बमुश्किल संभाला जा सका।

 

डॉक्टरों के पैनल ने किया पीएम

जल्दी ही मौके पर एसपी डीआर तेनीवार, एसडीओपी टीएस बघेल सहित एफएसएल टीम पहुंची। मौके से साक्ष्य जुटाए गए। शाम करीब चार बजे सेंधवा सिविल अस्पताल ले जाया गया। वहां तीन डॉक्टरों की पैनल ने पोस्टमार्टम कर शव परिजन के सुपुर्द कर दिया।

 

ऐसा मामला पहले कभी नहीं देखा

बालिका की आंख, नाक में मिट्टी भरी है। मुंह में घास, मिट्टी, लकड़ी पाई गई है। पीएम रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। हालांकि मासूम के प्रायवेट पार्ट में मिट्टी, कपास के पत्ते और घेंटे के टुकड़े पाए गए हैं। जिस तरह से मासूम की जान ली गई है, ऐसा मामला पहले कभी नहीं देखा। यह सामान्य मानसिकता के व्यक्ति का काम नहीं हो सकता। आरोपित का सुराग नहीं मिला है, लेकिन वह जो भी है, जल्दी खोज निकाला जाएगा।

 

-डीआर तेनीवार, एसपी

" />
5 साल की मासूम की हत्या, मुंह में लकड़ी ठूंसी, आंख-नाक में मिट्टी डाली

5 साल की मासूम की हत्या, मुंह में लकड़ी ठूंसी, आंख-नाक में मिट्टी डाली

Thu 03 Oct 19  2:38 pm


सेंधवा (बड़वानी)। मंगलवार शाम से लापता पांच साल की मासूम बच्ची का शव ग्राम मालवन के खेत में मिलने से सनसनी फैल गई। किसी दरिंदे ने निर्ममता से उसकी हत्या कर दी। उसके सिर पर 20 से अधिक घाव मिले हैं। आंख, नाक में मिट्टी और मुंह में लकड़ी के टुकड़े भरे मिले। प्राइवेट पार्ट में मिट्टी और कपास के घेटे (फल) मिले हैं। पुलिस के अनुसार प्रारंभिक जांच में दुष्कर्म की बात सामने नहीं आई है। अज्ञात आरोपित के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज किया गया है।

बालिका मंगलवार शाम चार बजे बड़े भाई के ढाई वर्षीय बेटे को कुरकुरे दिलाने घर से निकली थी। किराने की दुकान उसके घर से 200 मीटर दूर है। थोड़ी देर में बालक अकेला लौटा तो घर वाले उसे तलाशने दुकान पहुंचे, लेकिन वह नहीं मिली। इस पर परिजन गांव में देर रात तक उसे तलाश करते रहे, लेकिन पता नहीं चल सका।

 

पड़ोसी ने देखा शव

बुधवार सुबह बालिका के घर के पीछे करीब 600 मीटर दूर स्थित ज्वार के खेत में पड़ोसी ने शव देखा। उसने तत्काल बालिका के परिजन को सूचना दी। मासूम बेटी का शव देख सभी चौंक गए। माता-पिता बदहवास हो गए। उन्हें बमुश्किल संभाला जा सका।

 

डॉक्टरों के पैनल ने किया पीएम

जल्दी ही मौके पर एसपी डीआर तेनीवार, एसडीओपी टीएस बघेल सहित एफएसएल टीम पहुंची। मौके से साक्ष्य जुटाए गए। शाम करीब चार बजे सेंधवा सिविल अस्पताल ले जाया गया। वहां तीन डॉक्टरों की पैनल ने पोस्टमार्टम कर शव परिजन के सुपुर्द कर दिया।

 

ऐसा मामला पहले कभी नहीं देखा

बालिका की आंख, नाक में मिट्टी भरी है। मुंह में घास, मिट्टी, लकड़ी पाई गई है। पीएम रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। हालांकि मासूम के प्रायवेट पार्ट में मिट्टी, कपास के पत्ते और घेंटे के टुकड़े पाए गए हैं। जिस तरह से मासूम की जान ली गई है, ऐसा मामला पहले कभी नहीं देखा। यह सामान्य मानसिकता के व्यक्ति का काम नहीं हो सकता। आरोपित का सुराग नहीं मिला है, लेकिन वह जो भी है, जल्दी खोज निकाला जाएगा।

 

-डीआर तेनीवार, एसपी

news news news