जयपुर । खेलने-कूदने की उम्र थी... ठीक से होश संभाला भी नहीं... महज सातवीं कक्षा में पढऩे वाली बच्ची के मां बनने का पता चला तो मां-बाप के पैरों तले जमीं खिसक गई। दरअसल पड़ौस में ही रहने वाले एक दरिंदे ने उसे हवस का शिकार बनाया था। हैवान के पाप का घड़ा उस वक्त फूटा जब पांच माह बाद तबीयत खराब होने पर उसे डॉक्टरों को दिखाया। चिकित्सकों ने उसे पांच माह की गर्भवती बताया।
मामला भांकरोटा थाना इलाके का है। यहां रहने वाली छात्रा के साथ पांच माह पूर्व पड़ौस में रहने वाले दंरिदें ने बहला-फुसलाकर मुंह काला किया। दुष्कर्म की शिकार 14 वर्षीय बालिका एक निजी स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ रही है।पड़ौस ही स्थित हॉस्टल में एक निजी कॉलेज में पढऩे वाला बिहार निवासी विकास कुमार रहता है। जिसकी बालिका के परिजनों से बातचीत होने के कारण घर पर आना जाता था।
घटनाक्रम के मुताबिक, गत मई माह में पीडि़त छात्रा के परिजन किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे। इस दौरान घर आए आरोपी विकास को बालिका मिली। परिजनों की गैरमौजूदगी का पता चलने पर आरोपी विकास के हौसले बढ़ गए और उसने डरा-धमकाकर छात्रा को दरिंदगी का शिकार बना डाला। इस बारे में किसी को बताने पर जाने से मारने की धमकी तक दे डाली। सीने में दर्द दबाएं बैठी बालिका की दो दिन पूर्व तबीयत खराब हो गई। पेट दर्द से हालत बिगड़ते देखकर घबराएं परिजनों बच्ची को लेकर अस्पताल जा पहुंचे। चिकित्सकों की जांच में पांच माह की गर्भवती होने का पता चलने पर परिजनों के होश उड़ गए। परिजनों ने अपनी बच्ची से पूछताछ की, तो उसने पड़ौसी विकास के दरिदंगी करने के बारे में बताया। तबीयत खराब होने पर बालिका को परिजनों के अस्पताल ले जाने का पता चलने पर आरोपित विकास फरार हो गया। गुस्साएं परिजनों ने थाने पहुंचकर मामला दर्ज कराया। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

" />
7 वीं की छात्रा 5 माह की गर्भवती, हालत बिगड़ी तो परिजनों के उड़े होश

7 वीं की छात्रा 5 माह की गर्भवती, हालत बिगड़ी तो परिजनों के उड़े होश

Sat 09 Nov 19  3:35 pm


जयपुर । खेलने-कूदने की उम्र थी... ठीक से होश संभाला भी नहीं... महज सातवीं कक्षा में पढऩे वाली बच्ची के मां बनने का पता चला तो मां-बाप के पैरों तले जमीं खिसक गई। दरअसल पड़ौस में ही रहने वाले एक दरिंदे ने उसे हवस का शिकार बनाया था। हैवान के पाप का घड़ा उस वक्त फूटा जब पांच माह बाद तबीयत खराब होने पर उसे डॉक्टरों को दिखाया। चिकित्सकों ने उसे पांच माह की गर्भवती बताया।
मामला भांकरोटा थाना इलाके का है। यहां रहने वाली छात्रा के साथ पांच माह पूर्व पड़ौस में रहने वाले दंरिदें ने बहला-फुसलाकर मुंह काला किया। दुष्कर्म की शिकार 14 वर्षीय बालिका एक निजी स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ रही है।पड़ौस ही स्थित हॉस्टल में एक निजी कॉलेज में पढऩे वाला बिहार निवासी विकास कुमार रहता है। जिसकी बालिका के परिजनों से बातचीत होने के कारण घर पर आना जाता था।
घटनाक्रम के मुताबिक, गत मई माह में पीडि़त छात्रा के परिजन किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे। इस दौरान घर आए आरोपी विकास को बालिका मिली। परिजनों की गैरमौजूदगी का पता चलने पर आरोपी विकास के हौसले बढ़ गए और उसने डरा-धमकाकर छात्रा को दरिंदगी का शिकार बना डाला। इस बारे में किसी को बताने पर जाने से मारने की धमकी तक दे डाली। सीने में दर्द दबाएं बैठी बालिका की दो दिन पूर्व तबीयत खराब हो गई। पेट दर्द से हालत बिगड़ते देखकर घबराएं परिजनों बच्ची को लेकर अस्पताल जा पहुंचे। चिकित्सकों की जांच में पांच माह की गर्भवती होने का पता चलने पर परिजनों के होश उड़ गए। परिजनों ने अपनी बच्ची से पूछताछ की, तो उसने पड़ौसी विकास के दरिदंगी करने के बारे में बताया। तबीयत खराब होने पर बालिका को परिजनों के अस्पताल ले जाने का पता चलने पर आरोपित विकास फरार हो गया। गुस्साएं परिजनों ने थाने पहुंचकर मामला दर्ज कराया। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

news news news