72 साल बाद पाकिस्तान में खोला गया हिंदू मंदिर

Thu 04 Jul 19  9:17 am


इस्लामाबाद, । पाकिस्तान में 72 साल बाद हिंदू मंदिर को दोबारा खोल दिया गया है। पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में सियालकोट स्थित शावाला तेजा सिंद मंदिर पहली बार खोला गया है। पाकिस्तान की आजादी के बाद यह पहली बार है जब यह मंदिर खोला जा रहा है। अब इस मंदिर में भारत से भगवान की मूर्तियां ले जाकर स्थापित की जाएंगी। श्रद्धालुओं ने हिंदू रीति रिवाज के साथ मंदिर की ओपनिंग सेरेमनी का आयोजन किया। पूजा करने के साथ ही हर-हर महादेव के नारे लगाए गए। इस मंदिर को दोबारा से खोलने की पहल पाकिस्तान इवैक्यूई ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड (ETPB) ने की है। इस दौरान हिंदू सुधार सभा के अध्यक्ष अमरनाथ रंधावा, डॉ. मुनावर चंद और पंडित काशी राम समेत अन्य हिंदू लीडर भी मौजूद रहे। श्राइन सेक्रेटरी सैयद फराज अब्बास ने इस मौके पर कहा कि पिछले कई सालों से हिंदू समुदाय मांग कर रहा था कि इस मंदिर को दोबारा खोला जाए। इवैक्यूई ट्रस्ट प्रॉपर्टी बोर्ड और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के निर्देश के बाद इस मंदिर को दोबारा खोला गया। उन्होंने आगे कहा कि एक बार मंदिर की लागत का आंकलन कर लिया जाए उसके बाद ही मरम्मत का काम शुरु किया जाएगा। मंदिर में देवी देवताओं की मूर्तियां लगाई जाएंगी। पाकिस्तान सरकार के इस फैसले पर हिंदू सुधार सभा के अध्यक्ष अमरनाथ रंधावा ने सरकार की तारीफ की। उन्होंने कहा कि हिंदू समुदाय के लोग काफी समय से इस मंदिर को दोबारा खोलने की मांग कर रहे थे। इस मंदिर का दोबारा खुलना हम लोगों के लिए बड़ी खबर है। साथ ही उन्होंने कहा कि सबसे जरूरी यह है कि हिंदू समुदाय को आसानी से मंदिर में आने जाने दिया जाए। जिससे की वह लोग राजाना मंदिर में पूजा पाठ कर सकें। सूत्रों के मुताबिक इस मंदिर में जो मूर्तियां लगाई जाएंगी उन्हें भारत से ले जाया जाएगा।
news news news