boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ

बदल सकता है वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पूरा गणित, बड़े बदलाव की तैयारी में ICC

बदल सकता है वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का पूरा गणित, बड़े बदलाव की तैयारी में ICC

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) कोविड-19 महामारी से प्रभावित पहली विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों का फैसला उन्होंने जितने मैचों में हिस्सा लिया है उनमें मिले अंकों के प्रतिशत के आधार पर करने पर विचार करेगा। क्रिकेट वेबसाइट की रिपोर्ट के अनुसार आइसीसी की क्रिकेट समिति ने पहले टूर्नामेंट के लिए इस विकल्प पर विचार किया है लेकिन अंतिम फैसला इस हफ्ते मुख्य कार्यकारियों की समिति करेगी। 

रिपोर्ट के अनुसार विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों का फैसला उनके द्वारा खेले मुकाबलों से मिले अंकों के प्रतिशत के आधार पर किया जा सकता है। आइसीसी की साल की अंतिम तिमाही बैठक सोमवार से शुरू होगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि समिति ने महामारी के कारण नहीं खेले गए मैचों को ड्रॉ मानने और अंक बांटने के विकल्प पर भी विचार किया, लेकिन इसे खारिज कर दिया गया। डब्ल्यूटीसी के अनुसार शीर्ष रैंकिंग वाली प्रत्येक नौ टीमें दो साल में छह सीरीज खेलती हैं और प्रत्येक सीरीज में अधिकतम 120 अंक दांव पर लगे होते हैं।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज बोले, ये भारतीय गेंदबाज जब रिटायर होगा तो महान तेज गेंदबाज बन चुका होगा

अगले साल जून में लॉ‌र्ड्स में होगा फाइलनल

शीर्ष दो टीमें अगले साल जून में लॉ‌र्ड्स में होने वाले फाइनल में जगह बनाएंगी। नए प्रस्ताव के अनुसार अगर भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सभी चार टेस्ट गंवा देता है और इंग्लैंड के खिलाफ सभी पांच टेस्ट जीत लेता है तो उसके 480 यानी 66.67 अंक हो जाएंगे। भारत अगर इंग्लैंड के खिलाफ पांचों टेस्ट जीतता है और ऑस्ट्रेलिया से 1-3 से हार जाता है जो उसके 510 या 70.83 प्रतिशत अंक होंगे जो न्यूजीलैंड के अधिकतम संभव प्रतिशत से कुछ अधिक होगा।

भारत की हार से होगा न्यूजीलैंड को फायदा

भारत अगर इंग्लैंड को 5-0 से हराता है और ऑस्ट्रेलिया से 0-2 से हार जाता है तो उसके 500 अंक या 69.44 प्रतिशत अंक होंगे। इसका मतलब हुआ कि अगर न्यूजीलैंड स्वदेश में 240 अंक हासिल कर लेता है तो ऑस्ट्रेलिया में दो ड्रॉ भी भारत के लिए पर्याप्त नहीं होंगे। अन्य टीमों में न्यूजीलैंड की टीम सबसे फायदे की स्थिति में है। अगर टीम वेस्टइंडीज और पाकिस्तान के खिलाफ घरेलू सीरीज में क्लीनस्वीप करती है तो उसके 420 अंक हो जाएंगे जो 70 प्रतिशत अंक होते हैं और टीम शीर्ष दो में जगह बनाते हुए फाइनल खेलेगी। भारत को ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट खेलने हैं जबकि पांच टेस्ट के लिए इंग्लैंड की मेजबानी करनी है और इन दो सीरीज से डब्ल्यूटीसी के फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों का फैसला होगा। भारत ने अब तक चार सीरीज खेली हैं और 360 अंक के साथ शीर्ष पर चल रहा है। उसके बाद ऑस्ट्रेलिया (296) और इंग्लैंड (292) का नंबर आता है।

ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu