Video ढाई करोड़ के गबन के आरोपित कैशियर ने किया सरेंडर, पुलिस जुटी पूछताछ

Video ढाई करोड़ के गबन के आरोपित कैशियर ने किया सरेंडर, पुलिस जुटी पूछताछ

Sun 13 Jan 19  7:52 pm


  भीलवाड़ा प्रेमकुमार गढ़वाल। भीलवाड़ा अरबन कॉ-ऑपरेटिव बैंक के ढाई करोड़ रुपए के गबन के आरोप लगने के बाद से लापता कैशियर राजेश शर्मा ने आज कोतवाली पुलिस के समक्ष सरेंडर कर दिया। वहीं पुलिस का कहना है कि राजेश वकील से राय लेने आ रहा था, तभी उसे रास्ते से दबोच लिया गया। वास्तविकता जो भी हो, फिलहाल पुलिस ने कैशियर को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। 

जानकारी के अनुसार, हेड कैशियर राजेश शर्मा  (खण्डेलवाल)  2 करोड़ 51 लाख रुपए का गबन कर पिछले दिनों फरार हो गया था। राशि गायब मिलने की भनक लगते ही प्रबंधक ने कैशियर राजेश के खिलाफ 30 दिसंबर 18 को कोतवाली में मामला दर्ज करवाया था। 
इसके बाद से राजेश भूमिगत था। उसकी तलाश में कोतवाली थाने से दो दफा जयपुर टीम भेजी गई। टीम ने राजेश की, उसके घर, ससुराल, बहन के ससुराल, ननिहाल,  रिश्तेदारों सहित परिचितों के यहां तलाश की, लेकिन पुलिस के हाथ राजेश नहीं लग पाया। थकहार कर पुलिस की टीमें बैरंग लौट आई। अब तक राजेश का कहीं पता नहीं चल पाया। राजेश के नहीं पकड़े जाने से बैंक प्रबंधन के साथ-साथ पुलिस भी इस बड़े मामले को लेकर परेशान थी। 
जानकारों की माने तो जयपुर गई टीम ने परिजनों व परिचितों पर दबाव बनाया था कि राजेश के संपर्क में आते ही उसे पुलिस के सामने पेश करें। इसी के चलते राजेश शर्मा ने आज कोतवाली पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। वहीं दूसरी और पुलिस सूत्रों की माने तो राजेश, किसी वकील से इस मामले में रायमशवरा करने भीलवाड़ा आ रहा था और इसकी भनक लगते ही पुलिस उसे बीच रास्ते से उठा लाई। जैसे भी हो, राजेश के पुलिस गिरफ्त में आने से बैंक प्रबंधन की चिंता थोड़ी कम हुई है। वहीं पुलिस को भी अब राजेश की तलाश में दर-दर भटकना नहीं पड़ेगा। 
उधर, देखना यह है कि राजेश के पकड़ में आने के बाद क्या राज खुलते हैं और पुलिस कितनी राशि बरामद कर पाती है या नहीं। फिलहाल पुलिस राजेश से पूछताछ में जुटी है।  

news news news