Video निर्जला एकादशी पर मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़

Video निर्जला एकादशी पर मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़

Thu 13 Jun 19  3:58 pm


भीलवाड़ा (हलचल)। जिले भर में आज निर्जला एकादशी मनाई जा रही है। लोगों ने इस मौके पर उपवास रखा और मंदिरों में सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है जबकि कई जगह शीतल पेय पदार्थों का वितरण किया गया है। 

भीलवाड़ा में निर्जला एकादशी के मौके पर विद्युत विभाग परिसर स्थित ग्यारसी माता मंदिर में आज सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है। खासकर महिलाएं मंदिर में मिट्टी का कलश, तरबूज, आम व अन्य फल माता को अर्पित किये है। इसी तरह अन्य मंदिरों में भी शीतल पेय पदार्थों का भगवान को भोग लगाकर प्रसाद के रूप में वितरण किया गया है। महिलाओं ने व्रत रखकर परिवार की मंगल कामना की है।

यह है महत्व

निर्जला एकादशी का शास्त्रों में भी खास महत्व बताया गया है।  महाभारत काल में भीम ने इस उपवास को रखा था। इस कारण इसे भीमसेन एकादशी भी कहते हैं। इस दिन भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के लिए निर्जल (बिना पानी) के उपवास किया जाता है। भगवान विष्णु के पूजन के बाद हवन, दान-पुण्य करने का खास महत्व है। बताया जाता है कि वर्षभर में जितनी एकादशी आती है, निर्जला पर उपवास करने से उन सभी का फल मिलता है।

बताया जाता है कि सिंगाडा़ आटा से बनी सेव, ठंडाई व चीनी से निर्मित ओळे इस मौसम में सेवन करना गुणकारी होता है। खासकर लू के मौसम में यह ठंडक पहुंचाती है।

news news news