Video होली दहन कल, रंग खेलेंगे गुरूवार को, सजे बाजार

Video होली दहन कल, रंग खेलेंगे गुरूवार को, सजे बाजार

Tue 19 Mar 19  5:38 pm


भीलवाड़ा (हलचल/सम्पत)। जिले में होली का पर्व बुधवार को और धुलण्डी गुरूवार को धूमधाम के साथ मनाई जाएगी। होली दहन को लेकर गली-मौहल्लों में तैयारियां शुरू हो गई है। 

भीलवाड़ा शहर सहित जिले भर में होली का दहन 20 मार्च को होगा। इसे लेकर गली-मौहल्लों के चौराहों पर होली का डांडा लगाने का काम किया जा रहा है और कई जगह होली रोपी जा चुकी है। शहर में पांच सौ से ज्यादा होलियों का दहन होगा। जबकि गुरूवार को धुलण्डी का पर्व रंग खेलकर मनाया जाएगा।  

रंग और पिचकारियों की दुकानें सजी :-

होली के पर्व को लेकर शहर में रंग और पिचकारियों की दुकानें सज चुकी है। लाल, गुलाबी, हरा, नीला रंग दुकानों के साथ-साथ फुटपाथ पर बिक रहा है। जबकि बच्चों के लिए दस रुपए से लेकर दो हजार तक की पिचकारियां बाजार में विभिन्न डिजाईनों और आकार में उपलब्ध है।

तलीय खाद्य सामग्री :

होली को लेकर फुटपाथों पर तलीय खाद्य सामग्री की स्टॉलें भी सज चुकी है। हर साल की तरह इस बार भी आलू की चिप्स, मक्की, मंूग, चावल के पापड़ व गुजराती तलीय खाद्य सामग्री भी कई वैरायटियों में उपलब्ध है। 

चित्तौड़ वालों की हवेली के निकट काका चने वालों के यहां होली को लेकर ज्वार, मक्की और चावल की फूली के साथ ही इस बार हींग और लहसून व जीरे के चने, काली मिर्च के सींग दाने, ड्राई मूंग मोठ, मसूर के साथ ही चना जोर गरम की विशेष वैरायटी भी उपलब्ध कराई गई है। 

होली का शुभ मुहूर्त :-

इस साल रंगों का त्योहार होली 21 मार्च को है। 20 मार्च (बुधवार) को पूर्णिमा तिथि प्रदोष व्यापिनी है। प्रदोष काल शाम 6:04 बजे से रात्रि 8:58 बजे तक है। भद्रा प्रात: 10:45 बजे से रात्रि 9:00 बजे तक पृथ्वी लोक के लिए अशुभ एवं अनिष्टकारी है. भद्रा की समाप्ति के बाद रात 9 बजे से 11:04 बजे तक शुभ व अमृत का चौघडिय़ा है। यह देश एवं राज्य के साथ-साथ लोगों के लिए भी श्रेष्ठ है। पंडित नरेन्द्र शर्मा ने बताया कि होलिका दहन के आठ दिन पूर्व से होलाष्टक प्रारंभ हो जाता है। इस दौरान सभी ग्रह एवं देवगण अग्नि स्वरूप उग्र रूप धारण किये होते हैं। होलिका दहन के बाद उसे जल से शीतल करने पर ग्रहों एवं देवताओं का वह उग्र रूप शांत हो जाता है। यही वजह है कि इस दिन नवान्नेष्टि यज्ञ भी संपन्न कराये जाते हैं। चतुर्दशी : 19 मार्च 2019 (मंगलवार) सुबह 11:45 से बुधवार सुबह 9:20 तक होलिका दहन का मुहूर्त : 20 मार्च 2019 (बुधवार) रात्रि 9 बजे बाद अति विशेष शुभ. होलिका दहन भद्रा रहित प्रदोष व्यापिनी फाल्गुन पूर्णिमा के दिन प्रदोष काल में किया जाना शास्त्र सम्मत है।

news news news