boltBREAKING NEWS
  • भीलवाड़ा : राधे कचौरी पर कार्रवाई, 39 किलो काजूकतली, 8 किलो मिठाई को किया नष्ट, कचौरी व तेल के लिये सैंपल, मिली अनियमितायें
  • भीलवाड़ा हलचल पर समाचार या जानकारी भेजे [email protected]
  • सबसे ज्यादा पाठकों तक पहुँच और सबसे सस्ता विज्ञापन सम्पर्क करें  6377 364 129
  • रहें हर खबर से अपडेट भीलवाड़ा हलचल के साथ

 पत्थर की खदान में दबकर युवक की मौत, एक अन्य घायल, दस लाख मांगा मुआवजा, 2 घंटे प्रदर्शन 

 पत्थर की खदान में दबकर युवक की मौत, एक अन्य घायल, दस लाख मांगा मुआवजा, 2 घंटे प्रदर्शन 

 भीलवाड़ा  हलचल। जिले के तख्तपुरा इलाके में पत्थर की खदान ढहने से एक युवक की पत्थरों के नीचे दबने से मौत हो गई, जबकि एक अन्य घायल हो गया। पुलिस ने 2 घंटे की मशक्कत के बाद जेसीबी से शव को मलबे से निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए राजकीय अस्पताल भिजवा दिया। जहां मृतक के परिजनों ने खदान मालिक से मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर दो घंटे हंगामा व प्रदर्शन किया। दोनों पक्षों के बीच बातचीत के बाद शव पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया गया। 
हमीरगढ़ थाना प्रभारी सुरेंद्र गोदारा ने हलचल को बताया कि तख्तपुरा क्षेत्र स्थित एक पत्थर की खदान का एक हिस्सा शनिवार सुबह ढह गया। इस दौरान खदान में मौजूद ओजियाडा निवासी उदयलाल (30) पुत्र जौधा रैगर मलबे के नीचे दब गया। जबकि रामलाल रैगर चोटिल हो गया। आस-पास मौजूद लोगों ने इसकी सूचना हमीरगढ़ पुलिस व ग्रामीणों को दी। इसके बाद पुलिस व ग्रामीण मौके पर पहुंच गये। जेसीबी को मौके पर बुलवा कर करीब 2 घंटे की मशक्कत के बाद मलबे में दबे उदयलाल को बाहर निकाला, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।  
शव को राजकीय अस्पताल ले जाया गया, जहां मृतक पक्ष के लोगों ने खदान मालिक से दस लाख रुपये मुआवजा दिलाने की मांग की। बाद में मृतक के पक्ष के लोगों की खदान मालिक से वार्ता हुई। करीब दो घंटे चली वार्ता के बाद दोनों पक्षों में समझौता हो गया। इसके बाद ही शव का पोस्टमार्टम करवा, शव परिजनों को सौंपा गया। थाना प्रभारी का कहना है कि खदान बंद पड़ी है। ऐसे में आस-पास के लोग जरुरत के हिसाब से पत्थर निकाल कर ले जाते हैं। उदयलाल व रामलाल भी वहां पत्थर निकालने गये थे और अचानक हादसा हो गया। मौके पर माइनिंग टीम भी पहुंची और खदान के बारे में जानकारी ली। 

ट्रेंडिंग न्यूज़

मौसम

cu