गुर्जर आरक्षण आंदोलन भीलवाड़ा में भी 12 को बनेगी रणनीति- धाबाई

गुर्जर आरक्षण आंदोलन भीलवाड़ा में भी 12 को बनेगी रणनीति- धाबाई

Sun 10 Feb 19  12:13 pm

भीलवाड़ा,(हलचल) गुर्जर समाज आरक्षण को लेकर कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के समर्थन में भीलवाड़ा जिले का गुर्जर समाज भी अब इस लड़ाई में कंधे से कन्धा मिलाकर चलने को तैयार है I अगर सरकार ने कोई कार्यवाही नहीं कि तो समाज के हक की लड़ाई के लिए अब जल्द ही भीलवाड़ा से भी आंदोलन शुरू किया जायेगा I अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष रामप्रसाद धाबाई ने बताया की कांग्रेस पार्टी ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया की हमारी सरकार बनने पर गुर्जर समाज को 5 फीसदी आरक्षण दिया जायेगा I सरकार बने हुए डेढ़ माह बीत गया मगर सरकार ने कोई कार्यवाही नहीं की तथा कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला द्वारा दिए गए 20 दिन के अल्टीमेटम को भी गंभीरता से नहीं लिया गया जिसकी वजह से समाज को आंदोलन की राह पर चलने के लिए मजबूर होना पड़ा एवं समाज भी ये नहीं चाहता कि आमजन को कोई परेशानी हो I मगर सरकार ने जो वादा किया है उसे पुरा करने कि भी उनकी जिम्मेदारी बनती है I इसलिए सरकार को अपने द्वारा किये गए वादे को पुरा करने के लिए तत्काल कार्यवाही करनी चाहिए I उसी वादे कि वजह से पुरे राजस्थान कि गुर्जर समाज ने कॉग्रेस का साथ दिया जिससे राजस्थान में कांग्रेस कि सरकार बन पाई I और अब सरकार ने तत्काल प्रभाव से अपना वादा पुरा नहीं किया तो आनेवाले लोकसभा चुनाव में इसका नुकसान भुगतना पड़ेगा I अगर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कहते है कि ये आरक्षण का मसला राज्य का न होकर केंद्र का है तो में उनसे पुछना चाहता हूँ कि आपने ये जूठे वादे करके समाज को गुमराह क्यों किया ? और किया तो उनका समाधान करने का कस्ट कर्रें I अखिल भारतीय गुर्जर महासभा के जिलाध्यक्ष भेरू लाल भडाणा ने बताया कि समाज एकजुट है, इस बार आर-पार कि लड़ाई लड़ी जाएगी I एवं गुर्जर गाडरी एकता मंच के प्रदेशाध्यक्ष उदयलाल भडाणा ने बताया कि इस लड़ाई में विशेष पिछड़ा वर्ग कि पाँचो जातियां मिलकर भाग लेगी I आगे कि रणनीति के लिए मंगलवार 12 फरवरी 2019 को दोपहर 1.15 बजे गुर्जर छात्रावास भीलवाड़ा, राजीव गाँधी ऑडिटोरियम के सामने मीटिंग रखी गई है, जिसमे समाज के प्रमुख - प्रमुख लोग भाग लेँगे I में गुर्जर समाज के सभी संगठनों से अपील करता हूँ कि अपने अधिकार कि लड़ाई में सभी मिलकर साथ देंवे I