मध्य्प्रदेश हलचल- शासकीय विद्यालयों के बिगड़े हालात

Tue 17 Jul 18  3:04 pm


  इंदौर कैलाशसिंह सिसोदिया। मध्य प्रदेश सरकार स्कूल चले हम का ढोल पीटते नहीं थक रही है। मामा मुख़्यमंत्री जी करोड़ो के रथ पर सवार होकर भांजे भांजियों को एक बार फिर सब्जबाग दिखाने निकल पड़े हैं। पर जनाब. .  नवीन शिक्षा सत्र शुरू हुए 20 दिन से भी ज्यादा हो गए परंतु शासकीय विद्यालयों के बिगड़े हालात अब तक सुधरते दिखाई नही दे रहे है। इसी प्रकार का मामला है आगर मालवा जिले के नलखेड़ा के शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का,  तो क्या हुआ. कहीं बच्चे शिक्षकों का इंतजार कर रहे है , तो क्या हुआ ,कही वाटर प्यूरी फायर होने के बाद भी बच्चे गंदे पानी को पीने के लिए मजबूर हैं , तो क्या हुआ , कहीं कंप्यूटर खराब होने से कंप्यूटर कक्षाओं में ताला लगा हुआ है ,तो क्या हुआ ,कहीं  स्वच्छ भारत अभियान को ठेंगा बताते हुए स्कूलों में गंदगी का साम्राज्य फेला हुआ है, तो क्या हुआ, कहीं आवारा पशुओं का परिसर में जमघट लगा हुआ है,,,मामाजी ? ऐसी व्यवस्थाएं  निजी शैक्षणिक संस्थानों को  लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से  जिम्मेदारों की मौन स्वीकृति की ओर इशारा नहीं करती है?

news news news