मायावती की रैली 24 को,कांग्रेस ने आधा दर्जन मंत्रियों की फौज तैनात की

Sat 12 Jan 19  3:39 pm

जयपुर, । राजस्थान की रामगढ़ विधानसभा सीट पर 27 जनवरी को होने वाले चुनाव के बाद विधानसभा की तस्वीर पूरी हो जाएगी। पिछले माह में बसपा उम्मीदवार की मृत्यु के बाद इस सीट पर चुनाव स्थगित कर दिया गया था। रामगढ़ सीट सत्तारूढ़ दल कांग्रेस और मुख्य विपक्षी दल भाजपा सहित बसपा के लिए भी काफी महत्वपूर्ण है। यहां यदि कांग्रेस जीतती है तो वह 200 सदस्यीय विधानसभा में 100 विधायकों के आंकड़े पर पहुंच जाएगी।

वर्तमान में कांग्रेस के 99 विधायक है। भाजपा के लिए यह सीट इसलिए अहम है, क्योंकि पिछले एक साल में इस क्षेत्र में गाय को लेकर चली राजनीति से वोटों के ध्रुवीकरण की अधिकतम संभावनाएं है। हालांकि भाजपा और कांग्रेस का खेल पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह के पुत्र जगत सिंह बिगाड़ने की कोशिश कर रहे है जगत सिंह इस सीट से बसपा के टिकट पर मैदान में है। एक मात्र मेव विधायक जाहिदा खान को मंत्री नहीं बनाए जाने से कांग्रेस का परम्परागत वोट बैंक मेव समाज नाराज है । वहीं दलित समाज फिलहाल बसपा के पक्ष में नजर आ रहा है ।