राजसमन्द जिला यातायात प्रबन्धन समिति की बैठक लिए महत्वपूर्ण निर्णय

Fri 08 Feb 19  5:42 pm


राजसमन्द (राव दिलीप) जिला यातायात प्रबन्धन समिति की शुक्रवार को जिला कलक्ट्री सभाकक्ष में जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल की अध्यक्षता में सम्पन्न बैठक में जिले की यातायात समस्याओं पर गंभीरता से विचार विमर्श किया गया और इससे संबंिधत तमाम व्यवस्थाओं के व्यापक सुधार के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। 

बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक भुवन भूषण यादव, जिला परिवहन अधिकारी अनिल पण्ड्या, उपखण्ड अधिकारी सुरेशकुमार खटीक सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण, यातायात क्षेत्र से संबंधित संस्थाओं के पदाधिकारीगण आदि उपस्थित थे। 

जिला कलक्टर अरविन्द कुमार पोसवाल ने जिले की यातायात समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए विभिन्न विभागाें को निर्देश दिए और कहा कि निर्धारित समय सीमा में सौंपे गए कार्य करें। 

सड़क दुर्घटनाओं पर नियंत्रण के लिए करें सख्त कार्यवाही

जिला कलक्टर ने सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए हर स्तर पर गंभीर उपाय सुनिश्चित करने, घाट व मोड सेक्शन पर सड़कों को सुधारने, सड़कों के दोनों तरफ झाड़ियां हटाने,  नाथद्वारा से खमनोर तथा अन्य क्षेत्रों में सड़कों पर ओवरलोडिंग वाहनों से गिरी स्लरी एवं धूल-मिट्टी को हटवाने, सड़क दुर्घटनाओं के कारणों की गहन पड़ताल करने, जहां जरूरी हो वहां पेचवर्क करने आदि के निर्देश विभिन्न विभागों को दिए।

बाल वाहिनियों के संचालन पर रखें पैनी नज़र

जिला कलक्टर ने नाथद्वारा एवं राजसमन्द तथा अन्य क्षेत्रों में संचालित स्कूली बसों बाल वाहिनियों के संचालन पर पैनी नज़र रखने के निर्देश दिए और कहा कि स्कूल संचालकों एवं प्रबन्धकों की पृथक से बैठक बुलाकर हिदायतें दी जानी चाहिएं कि स्कूल बस के वाहन चाहन ड्राइविंग के वक्त मोबाइल न चलाएं, स्कूल बसें नियमानुसार फिटनेस के अनुरूप हों, रोजाना जाम की समस्या को देखते हुए शहर में घनी बस्तियों के लिए छोटी स्कूल बसों को बढ़ावा दिया जाए, ओवरलोडिंग खत्म की जाए व अनुपयुक्त वाहनों को हटाया जाए। बाल वाहिनियों एवं दूसरे वाहनों द्वारा स्कूल समय के अलावा प्राईवेट रू्ट्स पर संचालन पर पाबंदी की कार्यवाही अमल मेंं लाई जाए।

जिला कलक्टर ने अगली बार होने वाली बैठकों में नेशनल हाईवे तथा आरएसआरडीसी के अधिकारियों की अनिवार्य मौजूदगी सुनिश्चित करने, कांकरोली से नाथद्वारा हाईवे पर बिखरी धूल व अतिक्रमण हटाने के सख्त निर्देश दिए।

जिला कलक्टर ने शहर में सड़कों पर अतिक्रमण हटाने तथा 4 दिन में लाइनिंग करने के निर्देश नगर परिषद को दिए। उन्होंने शहर में लाइसेंस व बीमा बगैर ऑटो चलाने वाले तथा नशेड़ी ऑटो चालकों के खिलाफ इसी सप्ताह कार्यवाही करने के निर्देश पुलिस एवं परिवहन अधिकारियों को दिए।

अनन्ता अस्पताल के बाहर हाई मॉस्क लाईट जरूरी नहीं

बैठक में नाथद्वारा -उदयपुर मार्ग पर अनन्ता अस्पताल के बाहर हाई मॉसक लाईट लगाने को औचित्यहीन बताते हुए कहा कि दुर्घटनाओं को रोकने के लिए अनन्ता अपनी ओर से सर्विस रोड निकलवाने के लिए प्रयास करें और इसके लिए नेशनल हाईवे के अधिकारियों से सम्पर्क कर कार्यवाही करे। 

जिला पुलिस अधीक्षक भुवन भूषण यादव ने कहा कि पुलिस एवं परिवहन विभाग मिलकर जिले की यातायात व्यवस्था में सुधार लाने के लिए हरसंभव प्रयासों में जुटे हुए हैं। उन्होंने समिति के सदस्यों को आश्वस्त किया कि बैठक में रखे गए विषयों पर प्रशासन, पुलिस एवं परिवहन विभाग मिलकर ठोस कार्यवाही करेंगे। उन्होंने सड़क सुरक्षा सप्ताह की गतिविधियों में भागीदारी का आह्वान भी किया।

जानकारों ने किया इन मुद्दों पर ध्यानाकर्षण

बैठक में विभिन्न वाहनों के संचालन से संबंधित संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने जिले की यातायात समस्याओं पर विस्तार से चर्चा की और इस दिशा में ठोस कार्यवाही का आग्रह किया। इमें नाथद्वारा में ऑटो स्टेण्ड की बेहतर व्यवस्था करने, राजसमन्द में द्वारकाधीश मन्दिर आने-जाने वाले वाहनों की पार्किंग व्यवस्था सुधारने व सुव्यवस्थित पार्किंग विकसित करने, एक साथ वाहनों के आवागमन की स्थिति में यातायात के दबाव को सुधारने, ऑटो संचालन के लिए शहर और गांव में सीमाएं तय करने, लालबाग, गुंजोल, बड़ारड़ा, पिपरड़ा, नाथुवास आदि क्षेत्रों में यातायात दबाव को देखते हुए कार्यवाही करने, हाईवे पर आवश्यकता वाले स्थानों पर संकेतक लगाने , शहर की पेराफेरी का दस किमी तक विस्तार करने आदि के बारे में ध्यानाकर्षण किया।

जिला परिवहन अधिकारी अनिल कुमार पण्ड्या ने बैठक का संचालन करते हुए पूर्ववर्ती बैठक के निर्णयों व उनकी अनुपालना के बारे में बताया तथा एजेण्डा के अनुसार विभिन्न विषयों को समिति के समक्ष रखा। उन्होंने नेशनल हाईवे पर 6 ब्लेक स्पॉट होने की जानकारी दी और कहा कि डार्क जोन की रोड सेफ्टी ऑडिट करायी जानी जरूरी है

news news news