राम मंदिर निर्माण का शंकराचार्य स्वरूपानंद ने किया ऐलान

Mon 11 Feb 19  11:51 pm

अयोध्या। राम मंदिर निर्माण के मुद्दे को लेकर एक बार फिर प्रयागराज कुंभ मेले में शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने एलान कर दिया है। उन्होंने कहा है कि प्रयागराज के कुंभ मेले से 17 फरवरी को राम मंदिर निर्माण के लिए अयोध्या कूच करेंगे। 17 फरवरी को दोपहर एक बजे हजारों साधु संतों व रामभक्तों के साथ वो अयोध्या कूच करेंगे। ये लोग 17 फरवरी को प्रतापगढ़ और 18 को सुल्तानपुर में रुकने के बाद 19 को अयोध्या पहुंचेंगे। इसके बाद 20 फरवरी को अयोध्या में सभा करेंगे। इस तरह शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती 21 फरवरी को अयोध्या में राम मंदिर के लिए ईंट रखने पर अड़े हुए हैं। शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने 21 फरवरी को अयोध्या में शिलापूजन और मंदिर के शिलान्यास का एलान किया है। इन्होंने अपनी यात्रा को रामाग्रह यात्रा का नाम दिया है। शंकराचार्य स्वरूपानंद ने राम मंदिर निर्माण के लिए मौजूदा सरकार पर यकीन नहीं होने की बात कही है। इससे पहले तीन दिन तक चली शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती की बुलाई धर्म संसद जो 30 जनवरी को खत्म हुई थी, उसमें प्रस्ताव पास हुआ था कि 21 फरवरी से अयोध्या में राम मंदिर का काम शुरू हो जाएगा। धर्म संसद में नन्दा, जया, भद्रा, पूर्णा नाम की 4 शिलाएं शंकराचार्य को सौंपी गई थीं और जानकारी आई थी कि यही शिलाएं लेकर अयोध्या पहुंचने के लिए हिंदुओं से आह्वान किया गया है।