सहाड़ा क्षेत्र में भाजपा नेताओं की टांग खिंचाई के बीच जनसंघ नेता चुनावी मैदान में

सहाड़ा क्षेत्र में भाजपा नेताओं की टांग खिंचाई के बीच जनसंघ नेता चुनावी मैदान में

Sat 11 Aug 18  1:34 pm

भीलवाड़ा (हलचल)। सहाड़ा-रायपुर विधानसभा क्षेत्र  में चुनाव से पहले ही भाजपा में घमासान मचा है। एक दूसरे की टांग खिंचाई और काट का प्रयास तेज हो गया है ताकि टिकिट से पहले ही कई दावेदारों के पत्ते कट सके। इनकी लड़ाई में अब जनसंघ के वक्त से जुड़े भाजपाई भी चुनाव मैदान में कूदने को तैयार हो रहे है जिनका खानदान ही जनसंघ से जुड़ा है।

सहाड़ा-रायपुर विधानसभा क्षेत्र में इस बार विधानसभा चुनाव से पहले ही दर्जन भर प्रत्याशियों के नाम चलने लगे है। इनमें भाजपा के बड़े पदाधिकारी और वर्तमान और पूर्व विधायक भी शामिल है लेकिन जातिवाद के चलते एक दूसरे की टांग खिंचाई भी शुरू हो गई है। एक के बाद एक ऑडियो वायरल हो रहे है और आरोप प्रत्यारोप लग रहे है। 

इस बीच रायपुर तहसील क्षेत्र के रहने वाले जनसंघी और 1972 से जनसंघ के साथ-साथ भाजपा के जिला संगठन में कई पदों पर सालों तक काम कर चुके बाबूलाल मेहता (जैन) ने भी चुनावी समर में ताल ठोकने की कमर कसी है। चर्चा है कि मेहता का परिवार भी जनसंघ से जुड़ा हुआ था। मेहता ने कोशीथल में अपनी शिक्षा दीक्षा पूरी की। और जनसंघ से जुड़कर लोगों से सीधा जुड़ाव रखा। कुछ सालों से मेहता गुजरात के सूरत में कारोबार करने लगे लेकिन जब भी चुनाव हुए कई महीनों पहले वे अपने विधानसभा क्षेत्र में आकर रहने लगते है और पार्टी के लिए काम करते है। वे इस बार भी सूरत से यहां आ तो गये है लेकिन उनका मानस इस बार चुनाव मैदान में ताल ठोकने का है। इसकी तैयारी में वे जुट भी गए है और लोगों से सीधा संपर्क बनाने के काम पर ध्यान दे रहे है। यही नहीं संगठन में भी उनकी अच्छीखासी पकड़ है। वे कई प्रदेशों और राष्ट्र्र्र्रीय नेताओं के साथ संगठनात्मक कार्यों में काम कर चुके हैं। गुजरात में बिल्डर्स व्यवसाय से जुड़े मेहता की पकड़ भाजपा के कई बड़े नेताओं से सीधी है। यूं कहे कि राष्ट्रीय नेताओं से भी वे यदा कदा मिलते रहते है। मेहता का कहना है कि चुनाव में ईमानदार, राष्ट्रभक्त प्रत्याशी को चुना जाय ताकि क्षेत्र का विकास हो।