boltBREAKING NEWS

रबी फसलों की बुआई के लिए 2400 मीट्रिक टन डीएपी जिले में उपलब्ध, तथा 2000 मैट्रिक टन की मांग भिजवाई गई

रबी फसलों की बुआई के लिए 2400 मीट्रिक टन डीएपी जिले में उपलब्ध, तथा 2000 मैट्रिक टन की मांग भिजवाई गई

 भीलवाडा BHN .

जिले में रबी फसलों की बुवाई शुरू हो चुकी है इसकी बुवाई के लिए 2400 मीट्रिक टन डीएपी जिले में उपलब्ध है तथा 2000 मैट्रिक टन की मांग भिजवा दी गई है। साथ ही 6000 मेट्रिक टन सिंगल सुपर फास्फेट और 2000 मीट्रिक टन यूरिया भी उपलब्ध है।

उपनिदेशक कृषि (विस्तार)   रामपाल खटीक ने बताया कि तीन बैग एसएसपी और 1 बैग यूरिया से 1 डीएपी बैग के बराबर पोषक तत्व मिलने के साथ सल्फर की मात्रा भी सरसो फसल को मिलती है जिससे तेल की मात्रा में बढोतरी होती है।

उन्होंने कृषकों को सलाह दी है कि आर्थिक लाभ के मध्यनजर रबी फसलों में विकल्प 2 के अनुसार डीएपी उर्वरक के स्थान पर एसएसपी और यूरिया उर्वरक का प्रयोग करे। निरीक्षण के दौरान अनियमितता पाये जाने पर उर्वरक नियंत्रण आदेश 1985 के प्रावधान अनुसार संबंधित विक्रेताओं के विरूद्ध सख्त कार्यवाही करे।