boltBREAKING NEWS
  •  
  • भीलवाड़ा हलचल app को अपडेट करें
  •  

आर्थिक तंगी के कारण एक ही परिवार के 4 लोगों ने लगायी फांसी

आर्थिक तंगी के कारण एक ही परिवार के 4 लोगों ने लगायी फांसी

शाहजहांपुर शहर के चौक कोतवाली क्षेत्र के कच्चा कटरा मोहल्ले में एक ही परिवार के चार सदस्यों के शव कमरे में फंदे बरामद हुए हैं. पड़ोसी की सूचना पर सोमवार दोपहर पुलिस मौके पर पहुंची.

आर्थिक तंगी और कर्जे से परेशान दवा कारोबारी ने अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ फंदे से लटककर जान दे दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने सुसाइड नोट भी बरामद किया है. सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी के कारण आत्महत्या करने की बात लिखी है.

मूलरूप से बरेली के फरीदपुर कस्बे के ऊंचा मोहल्ले के रहने वाले अखिलेश गुप्ता (42) पिछले सात-आठ साल से शाहजहांपुर के कच्चा कटरा मोहल्ले में रह रहे थे. उनका लक्ष्मी नारायण मेडिकल एजेंसी के नाम से थोक दवाओं का काम था.

रविवार को सूदखोर घर पर आकर अखिलेश को धमका कर गया था. इसके बाद से ही पूरे परिवार को किसी ने बाहर नहीं देखा . आशंका जताई जा रही है कि रविवार शाम या देर रात में परिवार के चारों सदस्य फंदे पर लटक गये.

सोमवार को करीब साढ़े दस बजे उनके घर में दूधिया दूध देने आया था. पत्नी रेशू (40) ने दूध लिया और अंदर चली गई. दोपहर साढ़े बारह बजे मोहल्ले का रहने वाला अखिलेश का दोस्त सुशील कॉल न उठने पर घर आ गया. मुख्य दरवाजा खटखटाया तो वह खुला मिला. गेट के आगे रखे स्टूल को हटाकर सुशील अंदर घुस गये.

कई आवाज देने पर कोई बाहर नहीं आया तो वह घर की दूसरी मंजिल पर पहुंचे. यहां का दृश्य देखकर सुशील के होश उड़ गए. लॉबी में अखिलेश और रेशू के शव छत पर पड़े जाल से बंधी रस्सी से लटक रहे थेौ कमरे में दोनों बच्चे शिवांग (12) और अभिजीता (छह) के शव फंदे से लटक रहे थे. बेटा शिवांग का शव कमरे के रोशनदान से लटका हुआ था जबकि बेटी अभिजीता का शव चौखट से लटका हुआ था. सुशील ने डायल-112 में फोन कर सूचना दी.

सूचना मिलने पर एसपी एस आनंद, एसपी ग्रामीण संजीव कुमार वाजपेयी समेत पुलिसबल मौके पर पहुंचा. फोरेंसिक टीम ने पहुंचकर साक्ष्य जुटाए. एसपी एस आनंद ने बताया कि तीन सुसाइड नोट मिले हैं. सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी और कर्जे से परेशान होकर आत्महत्या की बात लिखी है. पुलिस मामले की जांच कर रही है. परिजनों को सूचना दे दी गई है. पिता डा. अशोक कुमार और मां फरीदपुर से आ रहे हैं.तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी.

आर्थिक तंगी के कारण एक ही परिवार के 4 लोगों ने लगायी फांसी