boltBREAKING NEWS

मोतियाबिंद के आपरेशन के बाद चली गई 8 मरीजों की आंखों की रोशनी, अस्पताल का लाइसेंस निलंबित

मोतियाबिंद के आपरेशन के बाद चली गई 8 मरीजों की आंखों की रोशनी, अस्पताल का लाइसेंस निलंबित

कानपुर। उत्तर प्रदेश के कानपुर में मोतियाबिंद का आपरेशन कराने के बाद आठ मरीजों की आंखों की रोशनी जाने का मामला सामने आया है। छह मामले में मंगलवार को आए जबकि दो बुधवार को आए। मंगलवार को ही सीएमओ ने आराध्या आइ हास्पिटल का लाइसेंस निलंबित कर दिया, जहां आपरेशन हुए थे। संक्रमण से चार मरीजों की तो आंखें गल गई हैं। फिलहाल दो मरीजों की रोशनी लौटने की उम्मीद डाक्टर जता रहे हैं। इन्हें एलएलआर के नेत्र रोग विभाग में भर्ती कर लिया गया है।

 

शिवराजपुर थाना क्षेत्र के सुघरदेवा गांव के 70 वर्षीय राजाराम कुरील, 63 वर्षीय रमेश कश्यप, 63 वर्षीय नन्हीं उर्फ मुन्नी देवी, 75 वर्षीय सुल्ताना देवी, 72 वर्षीय शेर सिंह और 67 वर्षीय रमादेवी ने मिश्रिख के सांसद अशोक रावत से आपरेशन के बाद आंखों की रोशनी जाने की शिकायत की थी। सांसद के कहने पर सभी मंगलवार को सीएमओ डा. आलोक रंजन से मिले और बताया कि बर्रा स्थित आराध्या आई हास्पिटल में तीन नवंबर को डा. नीरज से आपरेशन कराया था।