boltBREAKING NEWS

हत्या के विरोध में दिनभर बंद, शाम को समझौते के बाद आदर्श का हुआ अंतिम संस्कार

हत्या के विरोध में दिनभर बंद, शाम को समझौते के बाद आदर्श का हुआ अंतिम संस्कार

भीलवाड़ा हलचल न्यूज
बीती रात हिंदू संगठन से जुड़े एक कार्यकर्ता आदर्श तापड़िया की संप्रदाय विशेष के युवकों द्वारा मामूली झगड़े में हत्या कर देने के विरोध में आज भीलवाड़ा हिंदू संगठनों और भाजपा के समर्थन पर शांतिपूर्ण ढंग से बंद रहा। बंद समर्थकों की ओर से तो कहीं कोई गड़बड़ नहीं हुई लेकिन सुभाषनगर में संप्रदाय विशेष के युवकों द्वारा चार छात्रों की पिटाई कर देने से एक बार फिर लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया। पुलिस बंद को लेकर लगातार चौकसी रखे हुए थी और एडीजीपी ने भी भीलवाड़ा पहुंचकर हालातों का जायजा लिया है।
समूह के रूप में निकले बाजार बंद कराने
हत्या के विरोध में बीती रात को ही भीलवाड़ा बंद की घोषणा कर दी गई थी। बंद के आह्वान को लेकर आज सुबह सूचना केंद्र पर भाजपा व हिंदू संगठनों के कार्यकर्ता जमा हुए और वहां से टोलियों के रूप में अलग-अलग इलाकों में पहुंचे और खुली हुई दुकानों को बंद कराया। खासबात यह रही कि अब तक के बंद में छोटी-मोटी दुकानें खुली रहती थीं लेकिन आज सभी ने स्वेच्छा से दुकानें बंद रखी। ट्रांसपोर्ट मार्केट में भी कामकाज नहीं हुआ। सूचना केंद्र के निकट यूआईटी मार्केट भी पूरी तरह बंद था। सब्जी मंडी में भी सब्जियां नहीं बिकीं।
सूचना केंद्र पर टेंट लगाने को लेकर विवाद

बुधवार सुबह हिंदू संगठनों की ओर से सूचना केंद्र चौराहे पर टेंट लगाने को लेकर संगठनों और पुलिस प्रशासन के बीच बहस हो गई। एक बार तो पुलिस फोर्स टेंट हटाने के लिए आगे भी बढ़ी लेकिन कार्यकर्ताओं के नारे लगाने के बाद पीछे हट गई। उधर, सांगानेरी गेट पर भी बंद के दौरान संप्रदाय विशेष के लोग बड़ी संख्या में एकत्रित हो गए थे जिन्हें पुलिस ने समझा-बुझाकर तितर-बितर किया। बड़ा मंदिर क्षेत्र में भी लोगों की आवाजाही पर कुछ समय के लिए रोक लगा दी गई, वहीं सुभाषनगर क्षेत्र में मारपीट के शिकार हुए छात्रों से भी मिलने पर सख्ती बरती गई। 
चाय, गुटखा व तंबाकू के लिए तरसे
बंद के दौरान चाय की थड़ी, पान की दुकानें भी पूरी तरह से बंद थीं। इसके चलते लोग चाय, गुटखा और तंबाकू के लिए इधर-उधर भटकते नजर आए। कुछ स्थानों पर दुकानदारों ने दुकानें तो बंद की हुई थी लेकिन गुटखा, सिगरेट थैलों में रखकर बेचते नजर आए।
बातचीत से सुलझा मामला, फिर भीलवाड़ा बंद की चेतावनी 

हत्या के मामले को लेकर विधायक विट्ठलशंकर अवस्थी, भाजपा जिलाध्यक्ष लादूलाल तेली, विहिप के विभाग मंत्री गणेश प्रजापत, विनीत, विजय ओझा आदि ने प्रयास किया और कलेक्टर-एसपी से बातचीत कर मृतक के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी, मुआवजा और शेष आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग रखी है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर आश्वासन के बाद भी मांगें नहीं मानी जाती है तो पांच दिन बाद बेमियादी भीलवाड़ा बंद कराया जाएगा।
समझौते के बाद अंतिम संस्कार
समझौते के बाद करीब 18 घंटे से मोर्चरी में रखे आदर्श के शव का पोस्टमार्टम हो सका। बाद में मृतक के भाई और मामा को शव सौंपा गया। शव शास्त्रीनगर भूपालपुरा स्थित आवास पर ले जाया गया और वहां आनन-फानन में रस्में निभाकर अंतिम यात्रा शुरू हुई। शास्त्रीनगर मोक्षधाम में परिजनों के साथ ही हिंदू संगठनों के लोगों की मौजूदगी में अंतिम संस्कार किया गया।
चप्पे-चप्पे पर पुलिस
सांप्रदायिक विवाद और बंद को देखते हुए पुलिस अधीक्षक आदर्श सिधू, एएसपी ज्येष्ठा मैत्रेयी, चंचल मिश्रा, उपाधीक्षक शहर हंसराज बैरवा, रामचंद्र चौधरी, यहां रह चुके भंवर रणधीर सिंह के साथ ही अन्य पुलिस अधिकारी और थानाप्रभारी अलग-अलग क्षेत्रों में निगाह रखे हुए थे। दिन में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक संजीब नार्जरी भी जयपुर से भीलवाड़ा पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
बढ़ाई चौकसी
सांगानेर के बाद शास्त्रीनगर की घटना को लेकर शहर के साथ ही जिले में सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई है। खासकर धर्मस्थलों पर चौकसी रखी जा रही है। वहीं रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और हाइवे पर संदिग्ध लोगों पर भी निगाह पुलिस रख रही है।