boltBREAKING NEWS

आदर्श हत्याकांड- बीच चौराहे पर दो बदमाशों ने पकड़े हाथ, एक ने सीने में चाकू मारा, बाकी ने बरसाये सरिये, तीन राउंडअप

आदर्श हत्याकांड- बीच चौराहे पर दो बदमाशों ने पकड़े हाथ, एक ने सीने में चाकू मारा, बाकी ने बरसाये सरिये, तीन राउंडअप

 भीलवाड़ा हलचल न्यूज. 

शहर के शास्त्रीनगर में ब्रह्मणी स्वीट्स के बाहर आदर्श तापडिय़ा की बेहरमी से चाकू मारकर हत्या को लेकर कोतवाली पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर के मुताबिक इस नौजवान को समुदाय विशेष के करीब दस जनों ने घेर लिया। इसके बाद दो ने उसके हाथ पकड़े, जबकि एक ने उसे सीने में चाकू मारा। लहूलुहान आदर्श को जमीन पर गिराने के बाद इन बेरहम कातिलों ने उस पर सरिये से वार भी किये। कत्ल की इस वारदात में लिप्त समुदाय विशेष के तीन जनों को राउंड अप कर हथियार बरामद कर लिया गया।  पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू ने इसकी पुष्टी की है।  
कोतवाली सूत्रों के अनुसार, सत्रह वर्षीय मयंक पुत्र ओमप्रकाश तापडिय़ा ने कोतवाली में हत्या की रिपोर्ट दी है। मयंक भोपालपुरा, शास्त्रीनगर में माताजी मंदिर के पास रहता है। मयंक ने अपने भाई आदर्श की हत्या को लेकर दी एफआईआर में बताया है कि मंगलवार रात 10.51 बजे उसके मोबाइल पर भाई आदर्श तापडिय़ा ने अपने फोन से कॉल किया। 

फोन पर बोला आदर्श- जल्दी आजा, मुझे घेर लिया है, जान से मार देंगे
आदर्श ने फोन पर अपने भाई मयंक से कहा कि तू ब्राह्मणी स्वीट्स पर जल्दी आ जा। मुझे (तीन नामजद सहित) करीब दस लोगों ने घेर लिया है।  मुझे जान से मार देंगे । इस पर मयंक तुरंत ही बाइक लेकर मौके पर पहुंच गया। जहां आदर्श को सभी ने घेर रखा था। 


भाई के सामने ही आर्दश के सीने में घोंप दिया चाकू
मयंक ने देखा कि आदर्श के दोनों हाथ दो बदमाशों ने पकड़ रखे थे। वहीं एक ने उसके सीने में चाकू मार दिया। बाद में अन्य ने नीचे गिरा कर आदर्श पर सरिये से वार किये। मयंक ने इन लोगों को रोकने की कोशिश की तो उन्होंने मयंक को भी धमकाया। इस दौरान मयंक के मामा कमल, नवीन व डोली भी आ गये, जिन्हें देखकर बदमाश भागने लगे। 

पीछा किया तो तेजी से बाइक को भगा ले गये
आदर्श पर चाकू व सरियों से हमले के बाद हमलावरों को मौके पर पहुंचे आदर्श के मामा ने पकडऩे की कोशिश की तो वे बाइक को तेजी से भगा कर ले गये। आदर्श को बाद में जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। 

घर जा रहा था आदर्श, बेवजह रोका, नाम पूछ कर किये वार
अस्पताल ले जाते समय आदर्श ने अपने भाई मयंक को बताया कि वह घर जा रहा था। उसे इन लोगों ने बिना किसी कारण रास्ते में रोका और नाम पूछा। इसके बाद चाकू, सरियों से वार कर मारने लगे। हत्या  व एससीएसटी एक्ट के तहत दर्ज मामले की जांच सीओ सिटी हंसराज बैरवा को सौंपी गई है।  

कत्ल में तीन बाल अपचारी राउंडअप, हथियार बरामद 
पुलिस अधीक्षक आदर्श सिद्धू ने पत्रकारों से बातचीत करते हुये कहा कि  आदर्श की हत्या के मामले में पुलिस ने तीन जनों को राउंडअप किया है। इनसे कत्ल में काम लिया गया हथियार भी बरामद कर लिया गया। उन्होंने कहा कि मामले में जो कोई और दोषी होगा, उसे भी बख्शा नहीं जायेगा।