boltBREAKING NEWS

आदर्श हत्याकांड-छोटे भाई से झगड़े को लेकर उलाहना देना नहीं आया रास, बड़े भाई की चाकू मारकर नाबालिगों ने कर दी हत्या, एक डिटेन

आदर्श हत्याकांड-छोटे भाई से झगड़े को लेकर उलाहना देना नहीं आया रास, बड़े भाई की चाकू मारकर नाबालिगों ने कर दी हत्या, एक डिटेन

 भीलवाड़ा हलचल न्यूज। शहर कोतवाली थाने के शास्त्रीनगर इलाके में मंगलवार रात एक युवक की दो जनों ने चाकू घोंपकर हत्या कर दी गई। सरेआम चाकूबाजी की इस वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई। शव को जिला अस्पताल ले जाया गया है। वहीं वारदात की सूचना पर कोतवाली पुलिस के साथ ही आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे हैं। देर रात पुलिस को मामले में अहम सुराग हाथ लगे। इसके बाद हत्या में शामिल दो में से एक को डिटेन कर लिया, जबकि दूसरे की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। वारदात में शामिल दोनों ही जने नाबालिग बताये जा रहे हैं। दूसरे के पकड़े जाने के बाद ही पुलिस जांच से स्थिति साफ हो पायेगी कि ये नाबालिग है या नहीं। 
कोतवाली पुलिस के अनुसार, न्यू हाउसिंग बोर्ड शास्त्रीनगर निवासी आदर्श 20 पुत्र ओमप्रकाश तापडिय़ा को शास्त्रीनगर स्थित ब्रह्माणी स्वीट्स दुकान के पास दो जनो ने चाकू मार दिया। इसके चलते वह गंभीर रूप से घायल हो गया। तापडिय़ा को उपचार के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। शव को सुरक्षित रखवाया गया है। सरेआम चाकूबाजी से आमजन सहम उठा। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। कोतवाल डीपी दाधीच सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गये। पुलिस की टीमें वारदातस्थल के आस-पास छानबीन कर कातिल का सुराग तलाशने के प्रयास शुरु किये।  सीसी टीवी फुटेज खंगाले गये। परिजनों से जानकारी जुटाई गई। 
 पुलिस के ने अथक प्रयास करते हुये मामले में अहम जानकारी जुटाकर एक नाबालिग को डिटेन कर लिया, जबकि दूसरे की सरगर्मी से तलाश की जा रही है। कत्ल में शामिल दोनों ही कोतवाली सर्किल के बताये जा रहे हैं। 

छोटे भाई हनी से किया था झगड़ा
कोतवाल दाधीच ने हलचल को बताया कि आदर्श तापडिय़ा के भाई हनी से दो नाबालिगों ने झगड़ा किया था। यह बात आदर्श को पता चली तो उसने दिन में झगड़ा करने वालों को उलाहना दिया था। ऐसे में माना जा रहा है कि इसी बात को लेकर आदर्श की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। 

अस्पताल में जुटे परिजन व परिचित
आदर्श के चाकू लगने की खबर परिजनों व परिचितों को मिली तो वे जिला अस्पताल पहुंच गये। इसके चलते अस्पताल में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई। भीमगंज थाना प्रभारी सुरजीत सिंह आदि ने अस्पताल में सुरक्षा की कमान संभाली।