boltBREAKING NEWS

20 बार रेड लाइट क्रॉस करने के बाद 21वीं बार में पुलिस के हत्थे चढ़ा, वसूला 10 हजार का जुर्माना

 20 बार रेड लाइट क्रॉस करने के बाद 21वीं बार में पुलिस के हत्थे चढ़ा, वसूला 10 हजार का जुर्माना

इंदौर.

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक कार चालक को ट्रैफिक सिग्नल पर रेड लाइट क्रॉस करना उस समय भारी पड़ गया, जब 20 बार रेड लाइट क्रॉस करने के बाद 21वीं बार में वो पुलिस के हत्थे चढ़ा। बताया जा रहा है कि, कार नंबर एमपी 09 सीएन 3943 के चालक ने इंदौर की सड़कों पर 20 बार रेड लाइट सिग्नल का उल्लंघन किया है। इसके बाद 21वीं बार में जब वो ट्रैफिक पुलिस की पकड़ में आया तो पुलिस द्वारा उसपर 10 हजार का जुर्माना वसूला गया।

 मामले को लेकर पुलिस उपायुक्त यातायात प्रबंधन महेशचंद जैन के निर्देशन में यातायात नियमों का उल्लंघन कर आमजनमानस का जीवन संकट में डालने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध प्रभावी अभियान चलाया जा रहा है। गैरजिम्मेदार वाहन चालकों से पूर्व में लंबित सभी ई-चालानों की समन शुल्क राशि भी वसूली जा रही है।

पकड़ाया तो पता चला पहले ही 20 बार तोड़ चुका है ट्रैपिक नियम

मंगलवार को यशवंत रोड चौराहा पर यातायात प्रबंधन का कार्य देख रहे सूबेदार सुमित बिलोनिया ने जीरो टॉलरेंस अभियान के तहत यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों पर प्रभावी कार्रवाई की। यातायात प्रबंधन के कार्य के दौरान रेड लाइट का उल्लंघन करने वाली कार को भी रोका गया। सूबेदार बिलोनिया ने यातायात प्रबंधन केंद्र से उक्त वाहन के पूर्व में लंबित ई-चालानों की जानकारी ली तो पता चला कि, वाहन चालक पहले से ही 20 बार रेड लाइट का उल्लंघन कर चुका है। इसके बाद पुलिस द्वारा वाहन चालक के लंबित चालानों की समन शुल्क राशि 10 रुपए वसूली गई।


जीरो टॉलरेंस अभियान के तहत कार्रवाई

वहीं कार क्रमांक एमपी 09 सीक्यू 8830 के चालक द्वारा 16 बार रेड लाइट उल्लंघन किया गया। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त अनिल कुमार पाटीदार के साथ क्यूआरटी टीम-3 के प्रभारी काजिम हुसैन रिजवी और टीम द्वारा मूसाखेड़ी चौराहे पर बेहतर यातायात प्रबंधन के साथ-साथ जीरो टॉलरेंस अभियान के तहत यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों पर प्रभावी कार्रवाई कर रहे थे। यातायात प्रबंधन के कार्य के दौरान रेड लाइट का उल्लंघन करने पर कार को रोका गया।