boltBREAKING NEWS

बीगोद में आत्मशांति जाप कार्यक्रम ने भ्रातृ-भगिनी प्रेम व समर्पण का कीर्तिमान स्थापित किया

बीगोद में आत्मशांति जाप कार्यक्रम ने भ्रातृ-भगिनी प्रेम व समर्पण का कीर्तिमान स्थापित किया


बीगोदBHN.

राजस्थान सरकार के शिक्षा विभाग से सेवानिवृत संस्कृत भाषा की प्रकांड विद्वान व्याख्याता एवम् लेखिका कमला जैन की आत्मशांति हेतु आयोजित नवकार महामंत्र जाप कार्यøम ने भ्रातृ-भगिनी प्रेम व समर्पण का कीर्तिमान स्थापित किया है। ऐसे कार्यक्रमों से संस्कारशील समाज व परिवारों का निर्माण होता है, जो कि वर्तमान युग की महत्त्वपूर्ण जरूरत है। यह बात क्षेत्रीय जैन समाज के प्रबुद्धजनों ने स्थानीय संचेती वाटिका में आयोजित विशिष्ट धर्मसभा को संबोधित करते हुए अभिव्यक्त किए।
जोजवा जैन श्रीसंघ के शिवकुमार पगारिया ने कहा कि भारतीय संस्कृति के अनुरूप भाई बहिन के आपसी समर्पण एवम् कर्तव्यपरायणता का बोध कराता यह आयोजन संस्कार निर्माण की दिशा में मील का पत्थर साबित होगा। नंदराय जैन श्रीसंघ के मंत्री राजेंद्र कुमार सिसोदिया ने शिक्षाविद् कमला जैन के शिक्षा के क्षेत्र में बहुमूल्य योगदान के प्रति कृतज्ञता ज्ञापित करते हुए नंदरायवासियों की ओर से नमन किया। मारवाड़ से जैन समाज के राजस्थान प्रवर्तक सुकनमुनि का धर्मसंदेश लेकर पहुंचे सुनील चपलोत ने कहा कि संचेती परिवार ने आत्मशांति कामनार्थ यह आयोजन कर एक नई मिसाल कायम की है, जो प्रशंसनीय है। मांडलगढ़ जैन श्रीसंघ के तेजसिंह बूलिया ने बोर्ड परीक्षाओं में जैन के शत प्रतिशत परिणाम देने को गौरवपूर्ण बताया। बीगोद जैन श्रीसंघ मंत्री महावीर बापना ने कहाकी समाज ने एक सरस्वती पुत्री को खो दिया है। सत्यनारायण सोडाणी ने राम ध्वनि उच्चारित कर सभा का वातावरण धर्ममय किया। 
इस अवसर पर भीलवाड़ा, मांडलगढ़, पहुना, मसूदा, बेगूं, होडा, खटवाडा, त्रिवेणी सहित सैकड़ों स्थानीय श्रावक श्राविकाओं एवम् धर्मावलंबियों ने उपस्थित होकर आत्मशांति जाप कार्यक्रम के प्रति अहोभाव प्रकट किए। आयोजक दिनेश संचेती दिनकर परिवार ने सभी का आतिथ्य सत्कार किया। पुजारी दयाशंकर वैष्णव ने अतिथियों का तिलक कर स्वागत किया।